shani 2 ganeshavoice.in बढ़ती उम्र के निशानों से हैं परेशान तो आजमाएं शनि Shani और शिलाजीत से जुड़ा यह उपाय
एस्ट्रो न्यूज ज्योतिष जानकारी नवग्रह राशिफल

बढ़ती उम्र के निशानों से हैं परेशान तो आजमाएं शनि Shani और शिलाजीत से जुड़ा यह उपाय

Shani  वर्तमान में “शिलाजीत” को भ्रामक प्रचारों द्वारा सिर्फ और सिर्फ सेक्सवर्धक औषधि बतलाया जाता है, परंतु सच्चाई इससे बहुत आगे बढ़कर है जो हमारे ऋषि-मुनियों ने बतायी थी।

shani 2 ganeshavoice.in बढ़ती उम्र के निशानों से हैं परेशान तो आजमाएं शनि Shani और शिलाजीत से जुड़ा यह उपाय

समस्या है तो समाधान भी है, विद्वान ज्योतिषी से फ्री में लें परामर्श

शिलाजीत हिमालय, अल्ताई और अन्य पर्वत श्रृंखलाओं की तलछटी चट्टानों में पाया जाने वाला एक काला पदार्थ होता है । यह कई औषधीय पेड़-पौधों के मरने के बाद अंतिम निचोड़ के रूप में तैयार होता है। भारतीय बाजार में इसकी कीमत बहुत ज्यादा है।

 

कुछ ज्योतिषी शिलाजीत को शुक्र से जोड़ते है जबकि असल में शिलाजीत खाने से शनि बलवान होता है। इसे आयुर्वेद में एक महाराजा (सुपर-जीवन रक्षक) माना जाता है। हाल के अध्ययनों से पता चला है कि शिलाजीत के सेवन से पुरुषों में प्रजनन की क्षमता को कई गुणा बढ़ाया जा सकता है, शनि देरी या स्तंभन का कारक होता है इसका इस्तेमाल शरीरिक कमजोरी को भी दूर करने में किया जा सकता है। यह मांसपेशियों की ताकत में वृद्धि करता है।

श्री शनिदेव चालीसा : shri shanidev chalisa in hindi

 

शिलाजीत ब्रेन में होने वाली सूजन को कम करके अल्जाइमर से राहत दिला सकता है। साथ ही ये उम्र बढ़ाने वाले कारकों के प्रभाव को कम करने में मदद करता है। शिलाजीत में फुल्विक एसिड होता है, जो एक मजबूत एंटीऑक्सिडेंट और एंटीइफ्लामेट्री का काम करता है। इसलिए इसके नियमित उपयोग से चेहरे और शरीर पर बढ़ती उम्र के निशानों को कम किया जा सकता है।

बिना कुंडली देखे जानिए, शनिदेव Shanidev कितने शुभ और कितने अशुभ

 

बाझपन की समस्या में ये पुरुषों का उपचार करता है। पुरुषों में प्रजनन की क्षमता में इजाफे के साथ उनके शुक्राणुओं की संख्या और गुणवत्ता में वृद्धि करता है।

दिल को रखे स्वस्थ,

नियमित तौर पर शिलाजीत का सेवन करना हृदय के स्वास्थ्य में भी सुधार ला सकता है। इसके अलावा कफ, चर्बी, मधुमेह, श्वास, मिर्गी, बवासीर, गठिया की सूजन, कोढ़, पथरी, पेट के कीड़े, त्वचा सम्बन्धी रोग में सुधार, स्मरण शक्ति बढ़ाने और इम्यूनिटी पॉवर को बढ़ाने में भी मदद कर सकता है। साथ ही, यह अन्य कई रोगों के इलाज करने के साथ-साथ काम करने की क्षमता में जबरदस्त तेजी लाता है।

क्या सम्बन्ध है नमक, शनिदेव और ज्योतिष में

 

सावधानी:- शिलाजीत और अश्वगंधा अत्यंत गर्म प्रकृति के होते है, अतः गर्मी में इसे कम मात्रा में ले, अन्य मौसम में गेहूँ के दाने जितना ही शुद्ध शिलाजीत दूध के साथ ले। जिनको गुस्सा बहुत अधिक आता हो वो इसके सेवन से बचें

शनिवार को क्या करें और क्या नहीं, कैसे प्रसन्न होते हैं शनिदेव, जानिए अभी

 

ज्योतिष के चमत्कारी उपाय, फ्री सर्विस और रोचक जानकारी के लिए ज्वाइन करें हमारा टेलिग्राम चैनल

Google News पर हमसे जुड़ने के लिए हमें यहां क्लीक कर फॉलो करें।

ज्योतिष, धर्म, व्रत एवं त्योहार से जुड़ी ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करें और ट्वीटर @ganeshavoice1 पर फॉलो करें।

maheshshivapress
महेश के. शिवा www.ganeshavoice.in के मुख्य संपादक हैं। जो सनातन संस्कृति, धर्म, संस्कृति और हिन्दी के अनेक विषयों पर लिखतें हैं। इन्हें ज्योतिष विज्ञान और वेदों से बहुत लगाव है।
http://ganeshavoice.in