2RSeRZQf 1 ganeshavoice.in Home Vastu Tips : घर में भूलकर भी नहीं लगाने चाहिए ये पौधे, हो सकता है नुकसान
राशिफल वास्तु टिप्स

Home Vastu Tips : घर में भूलकर भी नहीं लगाने चाहिए ये पौधे, हो सकता है नुकसान

Home Vastu Tips : घर में पौधे होने के बहुत सारे फायदे हैं। तुलसी और ऑर्किड जैसे पौधे, घर में हवा को फिल्टर करते हैं, साथ ही वास्तु के अनुसार भी शुभ माने जाते हैं। लेकिन कुछ पौधों को घर में लगाना काफी अशुभ माना जाता है। आइए जानें कौन से वो पौधे…

2RSeRZQf 1 ganeshavoice.in Home Vastu Tips : घर में भूलकर भी नहीं लगाने चाहिए ये पौधे, हो सकता है नुकसान

जीवनसाथी की तलाश हुई आसान! फ्री रजिस्ट्रेशन करके तलाश करें अपना हमसफर

समस्या है तो समाधान भी है, विद्वान ज्योतिषी से फ्री में लें परामर्श

इमली का पौधा –
वास्तु और फेंगशुई दोनों विशेषज्ञों के अनुसार इमली का पौधा घर में नहीं लगाना चाहिए। इससे घर में नकारात्मक वाइब्स और ऊर्जा रहती है। इससे घर में वाद-विवाद बढ़ता है। जिस जमीन पर इमली का पौधा हो वहां घर न बनाएं। साथ ही इसे घर के आसपास लगाने से बचें।

कपास का पौधा –
वास्तु के अनुसार कपास के पौधे को घर में नहीं रखना चाहिए। ये पौधे दुर्भाग्य और गरीबी लेकर आता है। इसलिए इन पौधों को बाहर की तरफ ही रखें।

काली बिल्ली भी होती है सौभाग्यशाली, वरदान मानते हैं ये देश, जानिए क्यों? 

बबुल प्लांट –
बबुल के पौधे को वचेलिया निलोटिका को नाम से भी जाना है। औषधीय रूप में इस पौधे का काफी महत्व है। इसमें सुंदर पीले फूल होते हैं। वास्तु विशेषज्ञों के अनुसार घर में बाबुल के पौधे रखने से बचना अच्छा है क्योंकि ये घर में विवाद पैदा कर सकते हैं।

मेहंदी का पौधा –
वास्तु के अनुसार कभी भी घर के आसपास मेंहदी का पौधा नहीं लगाना चाहिए। ऐसा माना जाता है कि मेहंदी के पौधों में बुरी आत्माओं का वास होता है। इस पौधे के आसपास नकारात्मक ऊर्जा का संचार होता है। इसलिए इस पौधे को घर में लगाने से बचें।

ज्योतिष के चमत्कारी उपाय, फ्री सर्विस और रोचक जानकारी के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करें और ट्वीटर @ganeshavoice1 पर फॉलो करें।

ज्योतिष, धर्म, व्रत एवं त्योहार से जुड़ी ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए  ज्वाइन करें हमारा टेलिग्राम चैनल

Google News पर हमसे जुड़ने के लिए हमें यहां क्लीक कर फॉलो करें।

maheshshivapress
महेश के. शिवा www.ganeshavoice.in के मुख्य संपादक हैं। जो सनातन संस्कृति, धर्म, संस्कृति और हिन्दी के अनेक विषयों पर लिखतें हैं। इन्हें ज्योतिष विज्ञान और वेदों से बहुत लगाव है।
http://ganeshavoice.in