hanuman ji 1 ganeshavoice.in यदि आप हैं हनुमान जी के भक्त तो आपको करने चाहिए ये जरुरी काम, मिलता है लाभ
जीवन मंत्र ज्योतिष जानकारी

यदि आप हैं हनुमान जी के भक्त तो आपको करने चाहिए ये जरुरी काम, मिलता है लाभ

यदि आप हनुमान जी के भक्त हैं तो शनिवार आपके लिए बहुत खास दिन हैं। इस दिन की जाने वाली हनुमान जी की पूजा का विशेष फल प्राप्त होता है।

1. भक्त को पूरे दिन के लिए कठोर व्रत का पालन करना चाहिए।
2. सुबह जल्दी स्नान करना शरीर, मन और आत्मा को शुद्ध करने के लिए आवश्यक है।
3. आपको हनुमान मंदिर में बजरंग बली की मूर्ति पर भगवान हनुमान जी को चोला चढ़ाने के लिए जाने की जरूरत है।

देश के सर्वश्रेष्ठ ज्योतिषी से बात करें, बिल्कुल फ्री

4. दीपक और अगरबत्ती की रोशनी के साथ भगवान को प्रसन्न करने के लिए फूल और फल चढ़ाए जाते हैं।
6. सुबह के समय, पीपल के कुछ पत्तों को तोड़ें और चंदन या कुमकुम पर श्री राम नाम लिखें। इसके बाद इन पत्तों की एक माला बनाएं और इसे हनुमानजी को अर्पित करें।
7. पीपल के पेड़ को जल चढ़ाएं और सात परिक्रमा करें। इसके बाद लोगों के नीचे बैठकर हनुमान चालीसा पढ़ें। अगर आप कड़ी मेहनत के बाद भी किसी महत्वपूर्ण काम में सफलता हासिल नहीं कर पा रहे हैं।

8. हनुमानजी को सिंदूर और तेल चढ़ाएं। जैसा कि विवाहित महिलाएं अपने पति की लंबी उम्र के लिए मांग में सिंदूर लगाती हैं, हनुमानजी भी अपने स्वामी श्रीराम के लिए अपने शरीर पर सिंदूर लगाते हैं। हनुमानजी को सिंदूर चढ़ाने वाले किसी भी व्यक्ति की सभी मनोकामनाएं पूरी होती हैं।
9. अच्छे स्वास्थ्य, धन और समृद्धि के लिए भगवान हनुमान जी के मंत्र का जाप करें।
मंत्र हैं: –
मनोजवं मारुततुल्यवेगम्
जितेन्दि्रयं बुद्धिमतां वरिष्थम्
वातात्मजं वानरयूथमुख्यं
श्री रामदूमं शरण प्रपद्ये
इसके बाद हनुमान जी की आरती उतारे। हनुमानजी की पूजा करने से जीवन के सारे कष्ट मिट जाते हैं। हनुमानजी एक ऐसे भगवान हैं, जो थोड़ी सी प्रार्थना से प्रसन्न होकर मनुष्य को जीवन में ख़ुशी प्रदान करते हैं। श्रीराम भक्त हनुमानजी को प्रसन्न करने के लिए प्रतिदिन हनुमान चालीसा का पाठ करें।

यदि बार-बार परेशानियों का सामना करना पड़ता है, तो हर मंगलवार को हनुमानजी के मंदिर में जाकर गुड और चने का प्रसाद चढ़ाना चाहिए। उस प्रसाद को वहीं मंदिर में बांट देना चाहिए। आप शुभ दिनों में भगवान हनुमान पूजा भी कर सकते हैं।

संकलनकर्ता
श्री ज्योतिष सेवाश्रम संस्थान (राज.)

maheshshivapress
महेश के. शिवा www.ganeshavoice.in के मुख्य संपादक हैं। जो सनातन संस्कृति, धर्म, संस्कृति और हिन्दी के अनेक विषयों पर लिखतें हैं। इन्हें ज्योतिष विज्ञान और वेदों से बहुत लगाव है।
http://ganeshavoice.in

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *