Gangadhareshwara Temple
धर्म दर्शन राशिफल

हर साल इस मंदिर में होता है चमत्‍कार, आप रह जाएंगे हैरान Gangadhareshwara Temple

Gangadhareshwara Temple : भारत कई रहस्‍यमयी और चमत्‍कारिक मंदिरों का घर है। कुछ मंदिरों से तो ऐसे रहस्‍य जुड़े हुए हैं, जो आज भी अनसुलझे हैं। ऐसा ही एक प्राचीन शिव मंदिर कर्नाटक राज्‍य में भी है। यहां की राजधानी बेंगलुरु में गवी गंगाधरेश्वर मंदिर (Gangadhareshwara Temple)  है, जिसमें हर साल मकर संक्रांति के दिन ऐसी घटना होती है, जो आश्‍चर्य से भर देती है। इस घटना को देखने के लिए लोग दूर-दूर से यहां पहुंचते हैं।

Gangadhareshwara Temple

Gangadhareshwara Temple
Gangadhareshwara Temple

जीवनसाथी की तलाश हुई आसान! फ्री रजिस्ट्रेशन करके तलाश करें अपना हमसफर

सभी राशियों का वार्षिक राशिफल 2022 पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

Gangadhareshwara Temple : 9वीं शताब्दी में कैम्पे गौड़ा द्वारा इस मंदिर का निर्माण कराया गया था और फिर 16वीं शताब्दी में इस मंदिर का जीर्णोद्धार कराया गया। इस मंदिर की खास बात है कि यहां मौजूद शिवलिंग स्‍वयंभू है यानी कि इसे किसी ने बनाया नहीं है। मान्‍यता है कि यह शिवलिंग खुद प्रकट हुआ है। हर साल मकर संक्रान्ति के मौके पर इस मंदिर में अद्भुत घटना देखने को मिलती है। इस दिन सूर्य देवता इस शिवलिंग का अपनी किरणों से अभिषेक करते हैं। जबकि साल के बाकी दिनों तक इस शिवलिंग पर सूर्य की किरणें नहीं पहुंच पाती हैं।

मकर संक्रांति पर बदलने वाली है इन लोगों की किस्‍मत 

पूरे साल में केवल मकर संक्रांति के दिन जब सूर्य देव उत्तरायण होते हैं, तब केवल 5 से 8 मिनट के लिए सूर्य की किरणें गर्भगृह तक पहुंचती है और शिवलिंग का अभिषेक करती हैं। आमतौर पर यह नजारा सूर्यास्त के समय देखने को मिलता है। यह नजारा इतना अद्भुत और खूबसूरत होता है कि इसे देखने के लिए लोग दूर-दूर से आते हैं।

यह मणि पहनते ही बरसने लगता है अपार धन-वैभव shukramani

मंदिर का वास्‍तु है बेहद खास Gangadhareshwara Temple

इस मंदिर का वास्‍तु बेहद खास है। यह मंदिर दक्षिण-पश्चिमी दिशा अर्थात नैऋत्य कोण की तरफ है। साथ ही इसे इस तरह बनाया गया है कि साल में केवल एक बार ही सूर्य की किरणें शिवलिंग तक पहुंच पाती हैं। इससे पता चलता है कि इस मंदिर का नक्शा तैयार करने वाले वास्तुविद नक्षत्र विज्ञान के ज्ञानी थे।

Gangadhareshwara Temple
Gangadhareshwara Temple

घी से बनता है मक्‍खन Gangadhareshwara Temple
इस मंदिर की एक खास बात और है कि जब इस शिवलिंग पर घी चढ़ाया जाता है तो वह मक्‍खन बन जाता है, जबकि आमतौर पर हमेशा मक्‍खन से घी बनाया जाता है। घी से मक्‍खन कभी नहीं बनता है।

ज्योतिष के चमत्कारी उपाय,  व्रत एवं त्योहार फ्री सर्विस और रोचक जानकारी के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करें और ट्वीटर @ganeshavoice1 पर फॉलो करें।

ज्योतिष, धर्म, व्रत एवं त्योहार से जुड़ी ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए  ज्वाइन करें हमारा टेलिग्राम चैनल

Google News पर हमसे जुड़ने के लिए हमें यहां क्लीक कर फॉलो करें।

maheshshivapress
महेश के. शिवा www.ganeshavoice.in के मुख्य संपादक हैं। जो सनातन संस्कृति, धर्म, संस्कृति और हिन्दी के अनेक विषयों पर लिखतें हैं। इन्हें ज्योतिष विज्ञान और वेदों से बहुत लगाव है।
http://ganeshavoice.in