Budh Vakri 2022
ग्रह गोचर नवग्रह राशिफल

Budh Vakri 2022 : इन 4 राशि वालों की बढ़ सकतीं हैं मुश्किलें!

Budh Vakri 2022 : वैदिक ज्योतिष में बुध ग्रह (Budh Vakri 2022) को बुद्धि और व्यापार का दाता कहा गया है। समय- समय पर हर ग्रह मार्गी और वक्री (Budh Vakri 2022 होते हैं। मार्गी का मतलब सीधी चाल और वक्री (Budh Vakri 2022) का मतलब उल्टी चाल चलना। बुध ग्रह लगभग साल में 3 बार वक्री होते हैं। साल 2022 में बुध की पहली वक्री चाल (Budh Vakri 2022) की अवधि 21 दिन की रहेगी। बुध ग्रह मकर राशि में 14 जनवरी से लेकर 4 फरवरी तक वक्री अवस्था में रहेंगे। ये स्थिति 4 राशि वालों के कष्ट बढ़ाने के काम करेगी। इन राशियों के जातकों को इस दौरान बेहद ही सतर्क रहना होगा। जानिए ये कौन सी राशियां हैं।

Budh Vakri 2022

Budh Vakri 2022
Budh Vakri 2022

जीवनसाथी की तलाश हुई आसान! फ्री रजिस्ट्रेशन करके तलाश करें अपना हमसफर

सभी राशियों का वार्षिक राशिफल 2022 पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

मेष: बुध ग्रह आपकी गोचर कुंडली के दसवें स्थान यानी करियर, नाम और यश के भाव में वक्री होंगे। ऐसे में आपको सलाह दी जाती है कि इस दौरान आप अपने करियर को लेकर पुरानी नीति पर ही काम करना जारी रखें। इस समय आपके ऊपर काम का बोझ बढ़ सकता है। बॉस या उच्च अधिकारियों के साथ मनमुटाव हो सकता है। शादीशुदा लोगों को पारिवारिक समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है।

मकर संक्रांति 2022 पर इन राशियों के लिए बन रहे धनलाभ योग

वृषभ: बुध ग्रह आपकी गोचर कुंडली के नौवें भाव में वक्री होंगे। इस अवधि में काम को लेकर कोई भी नया प्रयोग करने से आपको बचना चाहिए। इस अवधि में आपको भाग्य का साथ उतना नहीं मिलेगा। पिता के साथ संबंध खराब हो सकते हैं। इसके अलावा, पिता का स्वास्थ्य खराब हो सकता है और उन्हें चिकित्सकीय देखरेख की आवश्यकता पड़ सकती है।

जूते-चप्‍पल भी डालते हैं किस्‍मत पर असर, कौन-सी गलतियां कराती हैं धन-हानि

कन्या: बुध ग्रह कन्या राशि की गोचर कुंडली के पंचम भाव में वक्री होंगे। इस दौरान प्रेम संबंध में परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है। जीवनसाथी के साथ मनमुटाव हो सकता है। जीवनसाथी का स्वास्थ्य खराब हो सकता है। शेयर बाजार में किसी भी तरह की भागीदारी से बचें अन्यथा नुकसान के संकेत हैं। जो जातक प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी कर रहे हैं, उन्हें इस दौरान पढ़ाई पर ध्यान केंद्रित करने में समस्या आ सकती है।

 इन लोगों के आने वाले हैं अच्छे दिन, मिल सकती है खुशखबरी!

वृश्चिक: बुध ग्रह वृश्चिक राशि की गोचर कुंडली के तीसरे भाव में वक्री होंगे। इस दौरान आपको यात्रा के दौरान परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है। इसलिए सावधान रहें। भावनात्मक जीवन में आप असंतोष का अनुभव कर सकते हैं। जमीन से जुड़े मामलों में निवेश से बचें। आपकी मां को स्वास्थ्य संबंधी समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है। छोटे भाई-बहनों से संबंध खराब हो सकते हैं, इसलिए बातचीत में पारदर्शिता रखें।

ज्योतिष के चमत्कारी उपाय,  व्रत एवं त्योहार फ्री सर्विस और रोचक जानकारी के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करें और ट्वीटर @ganeshavoice1 पर फॉलो करें।

ज्योतिष, धर्म, व्रत एवं त्योहार से जुड़ी ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए  ज्वाइन करें हमारा टेलिग्राम चैनल

Google News पर हमसे जुड़ने के लिए हमें यहां क्लीक कर फॉलो करें।

maheshshivapress
महेश के. शिवा www.ganeshavoice.in के मुख्य संपादक हैं। जो सनातन संस्कृति, धर्म, संस्कृति और हिन्दी के अनेक विषयों पर लिखतें हैं। इन्हें ज्योतिष विज्ञान और वेदों से बहुत लगाव है।
http://ganeshavoice.in