00 3 ganeshavoice.in चमक उठेगी किस्मत, 23 अगस्त से 40 दिनों तक करें इस अष्टलक्ष्मी मंत्र का जाप : Ashtalakshmi Mantra
चमत्कारी उपाय राशिफल लाल किताब

चमक उठेगी किस्मत, 23 अगस्त से 40 दिनों तक करें इस अष्टलक्ष्मी मंत्र का जाप : Ashtalakshmi Mantra

Ashtalakshmi Mantra : 22 अगस्त को सावन के महीने का आखिरी दिन है। इस दिन श्रावण पूर्णिमा है, साथ ही रक्षा बंधन का पावन त्योहार भी है। पूर्णिमा की तिथि 21 अगस्त को शाम 07:02 बजे शुरू होगी और 22 अगस्त को शाम 05:33 बजे समाप्त होगी। कहा जाता है कि सावन मास की इस पूर्णिमा तिथि पर महादेव के साथ साथ भगवान विष्णु और मां लक्ष्मी की पूजा की जाए तो बहुत शुभ होता है।

00 3 ganeshavoice.in चमक उठेगी किस्मत, 23 अगस्त से 40 दिनों तक करें इस अष्टलक्ष्मी मंत्र का जाप : Ashtalakshmi Mantra

समस्या है तो समाधान भी है, विद्वान ज्योतिषी से फ्री में लें परामर्श

 

ऐसे में भोलेनाथ के साथ मां लक्ष्मी और नारायण की भी कृपा घर में बनी रहती है और जीवनभर धन धान्य आदि की कमी नहीं होती। अगर आपके घर पर आर्थिक संकट है तो आपके लिए पूर्णिमा का दिन और भी खास है क्योंकि इस दिन से लेकर अगले 40 दिनों तक आप अष्ट लक्ष्मी प्रयोग करके माता लक्ष्मी को बेहद प्रसन्न कर सकते हैं। ये अचूक प्रयोग आपके जीवन में धन की ऐसी वर्षा करेगा कि आप जीवन भर कभी धन संबन्धी कष्टों का सामना नहीं करेंगे।

आखिर क्यों होती है अपनी उम्र से ज्यादा बड़े व्यक्ति से शादी marriage ?

ऐसे होगा अष्टलक्ष्मी प्रयोग
अष्टलक्ष्मी प्रयोग को करने के लिए सबसे पहले लक्ष्मी माता का ऐसा चित्र खरीदकर लाएं जिसमें वे कमल पर आसीन हों और उनके दोनों तरफ हाथी उनकी सेवा कर रहे हों। इस प्रकार की लक्ष्मी को ज्येष्ठा लक्ष्मी कहा जाता है। इसके बाद लक्ष्मी माता की तस्वीर और यंत्र की पूर्णिमा के दिन से लेकर अगले 40 दिनों तक रोजाना पूजा करें और कमलगट्टे की माला से ‘ओम श्रीं ह्रीं श्रीं कमले कमलालये प्रसीद प्रसीद श्रीं ह्रीं श्रीं ऊं महालक्ष्म्यै नम:’ मंत्र का नियमित रूप से जाप करें। आपको रोजाना कम से कम 29 माला का जाप करना है। इस तरह रोजाना जाप करने से 40 दिनों में सवा लाख जाप संपन्न हो जाएंगे।

Love प्यार के नाम से घबराते हैं इन राशियों के लोग, जानिए अपने बारे में

40वें दिन कन्याओं को कराएं भोज
40वें दिन आपको इसी मंत्र से कमलपत्र, बिल्वपत्र या दुग्धस्रावित स्निग्ध औषधियों से बनी खीर से 108 आहुति देकर हवन करना है। हवन के बाद 5 या 7 कन्याओं को घर पर बुलाकर उन्हें भोजन कराएं और खीर खिलाएं। उनका पूजन करें और यथा सामर्थ्य दक्षिणा देकर, उनके पैर छूकर सम्मानपूर्वक विदा करें।

Raksha Bandhan : रुठे भाई को मनाने के लिए करें ये चमत्कारी उपाय, दौड़ा चला आएगा

इतना सब पूर्ण करने के बाद मंत्र सिद्ध हो जाएगा। इसके बाद आपके जीवन में धन से जुड़ी तमाम समस्याएं अपने आप खत्म होने लगेंगी। व्यापार में दिन दूनी रात चौगुनी तरक्की होगी। नौकरी में प्रमोशन होगा और आप तेजी से आगे बढ़ते जाएंगे। 40 दिन पूरे होने के बाद भी आप लक्ष्मी जी प्रतिमा और उनके यंत्र का नियमित पूजन करें और उस मंत्र का श्रद्धानुसार जाप करते रहें।

ज्योतिष के चमत्कारी उपाय, फ्री सर्विस और रोचक जानकारी के लिए ज्वाइन करें हमारा टेलिग्राम चैनल

Google News पर हमसे जुड़ने के लिए हमें यहां क्लीक कर फॉलो करें।

ज्योतिष, धर्म, व्रत एवं त्योहार से जुड़ी ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करें और ट्वीटर @ganeshavoice1 पर फॉलो करें।

maheshshivapress
महेश के. शिवा www.ganeshavoice.in के मुख्य संपादक हैं। जो सनातन संस्कृति, धर्म, संस्कृति और हिन्दी के अनेक विषयों पर लिखतें हैं। इन्हें ज्योतिष विज्ञान और वेदों से बहुत लगाव है।
http://ganeshavoice.in