Budh ka rashi privartan 1
ग्रह गोचर

बुध का राशि परिवर्तन Budh ka rashi privartan : इन राशियों को रहना होगा सावधान

बुध का राशि परिवर्तन Budh ka rashi privartan: ज्योतिष शास्त्र के अनुसार बुध ग्रह के राशि परिवर्तन से इसका सभी राशि के जातकों पर विशेष प्रभाव पड़ता है। हिन्दू पंचांग के अनुसार 3 जून 2021 को बुध वृषभ राशि में गोचर कर चुके हैं। इसके बाद वह 7 जुलाई 2021 को मिथुन राशि में प्रवेश करेंगे। ज्योतिष शास्त्र के अनुसार बुध के गोचर से सभी राशियाँ प्रभावित होती हैं। किसी राशि के लिए बुध के गोचर से सकारात्मक प्रभाव होता है तो कुछ राशियों पर इसका नकारात्मक प्रभाव देखने को मिलता है। आइए जानते हैं सभी राशियों पर बुध के गोचर का क्या प्रभाव पड़ेगा –

Budh ka rashi privartan 1

मेष
बुध का राशि परिवर्तन मेष राशि के दूसरे भाव में होगा। मेष राशि के लिए बुध का गोचर शुभ फल देने वाला साबित होगा इस दौरान आपको कार्य क्षेत्र में सफलता मिलेगी और आपकी आर्थिक स्थिति मजबूत होगी। आपका अपने भाई बहनों के साथ संबंध मधुर बनेंगे।

समस्या है तो समाधान भी है, विद्वान ज्योतिषी से फ्री में लें परामर्श

वृषभ
वृषभ राशि में बुध का गोचर प्रथम भाव में होगा जिससे आपको शुभ परिणाम प्राप्त होंगे। यह समय वृषभ राशि वालों के लिए बहुत अच्छा रहने वाला है। नौकरी पेशा जातकों को इस दौरान कार्यक्षेत्र में सफलता हासिल होगी। शिक्षा के क्षेत्र में भी सफलता मिलने के योग हैं।

मिथुन
मिथुन राशि में बुध का गोचर बारहवें भाव में होने जा रहा है। बुध के गोचर से आपको मानसिक तनाव हो सकता है। स्वास्थ्य के लिहाज से भी यह समय कुछ अच्छा नहीं कह सकते हैं। अपने स्वास्थ्य के प्रति सचेत रहें। इस दौरान आपको अपने खर्चों पर ध्यान देने की जरूरत है।

कर्क
बुध का गोचर कर्क राशि के ग्यारहवें भाव में होगा। बुध का राशि परिवर्तन आपके लिए शुभ रहेगा। इस दौरान आप को आर्थिक लाभ होने के योग हैं। इस दौरान आपका कोई रुका हुआ काम पूरा हो सकता है।

सिंह
बुध का गोचर सिंह राशि के दसवें भाव में होगा। बुध की राशि परिवर्तन से आपको शुभ परिणाम मिलेंगे। इस दौरान आपकी आर्थिक स्थिति मजबूत होगी। कार्य क्षेत्र में सफलता के योग बनेंगे।

कन्या
बुध का गोचर कन्या राशि के नवें भाव में होगा। कन्या राशि के जातकों के लिए बुध का राशि परिवर्तन शुभ परिणाम देने वाला होगा। इस दौरान आपको अपने परिश्रम से शानदार परिणाम प्राप्त होंगे। आपको अपने स्वास्थ्य के प्रति सावधानी बरतने की जरूरत है।

तुला
तुला राशि में बुध का गोचर आठवें भाव में होगा। बुध के गोचर से आपको कुछ परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है। इस दौरान पैसों के लेन देन में सावधानी बरतें। आपको अपने क्रोध पर नियंत्रण रखने की आवश्यकता है। इस दौरान आपको मानसिक तनाव हो सकता है।

वृश्चिक
बुध का गोचर वृश्चिक राशि के सातवें भाव में होगा। वृश्चिक राशि के जातकों को बुध के राशि परिवर्तन से कुछ परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है। इस दौरान आपका अपने जीवन साथी के साथ मनमुटाव हो सकता है। हालांकि कार्यक्षेत्र में आपको सफलता मिल सकती है।

धनु
धनु राशि में बुध का गोचर छठे भाव में होगा। बुध की राशि परिवर्तन से धनु राशि के जातकों को शुभ परिणाम मिलेंगे। आपको कार्य क्षेत्र में सफलता हासिल होगी। व्यापारी जातकों को भी व्यापार में मुनाफा होगा।

मकर
मकर राशि में बुध का गोचर पांचवे भाव में होगा। बुध की राशि परिवर्तन से मकर राशि के जातकों को शुभ परिणाम प्राप्त होंगे। इस दौरान आपको परीक्षा में सफलता हासिल हो सकती है। आपका पारिवारिक जीवन भी सुख में रहेगा। आपका अपने जीवन साथी के साथ प्रेम बढ़ेगा।

कुम्भ
बुध का गोचर कुंभ राशि के चौथे भाव में होगा। बुध की राशि परिवर्तन से आपकी आर्थिक स्थिति में सुधार होगा। इस दौरान आपकी मान सम्मान में वृद्धि होगी। नौकरीपेशा जातकों को कार्यक्षेत्र में सफलता हासिल होगी।

मीन
मीन राशि में बुध का गोचर तीसरे भाव में होगा। बुध की राशि परिवर्तन से आपको शुभ परिणाम प्राप्त होंगे। इस दौरान आपको आर्थिक लाभ होंगे। हालांकि इस दौरान आपको अपने स्वास्थ्य के प्रति सचेत रहने की आवश्यकता है। यात्रा करने से बचें अन्यथा आप को कष्ट हो सकता है।

ज्योतिष के चमत्कारी उपाय, फ्री सर्विस और रोचक जानकारी के लिए ज्वाइन करें हमारा टेलिग्राम चैनल

ज्योतिष, धर्म, व्रत एवं त्योहार से जुड़ी ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करें और ट्वीटर @ganeshavoice1 पर फॉलो करें।

maheshshivapress
महेश कुमार शिवा www.ganeshavoice.in के मुख्य संपादक हैं। जो सनातन संस्कृति, धर्म, संस्कृति और हिन्दी के अनेक विषयों पर लिखतें हैं। इन्हें ज्योतिष विज्ञान और वेदों से बहुत लगाव है।
http://ganeshavoice.in