Gemology

Gemology: इन लोगों को नहीं धारण करना चाहिए मूंगा, होता है बड़ा नुकसान

Gemology Coral Stone: रत्न और ज्योतिष (Gemology) का परस्पर धनिष्ठ संबंध है। रत्न शास्त्र (Gemology) की दृष्टि से प्रत्येक ग्रह का एक प्रतिनिधि रत्न निर्धारित किया गया है। इसलिए आज (Gemology) हम बात करने जा रहे हैं मूंगा रत्न के बारे में, जो मंगल ग्रह का रत्न है। मंगल ग्रह को एक लाल ग्रह कहा जाता है और रत्न विज्ञान के अनुसार मूंगा को बहुत ही ताकतवर और प्रभावी माना गया है। लेकिन देखा गया है लोग शौक- शौक में मूंगा रत्न धारण कर लेते हैं जो कि गलत है।

आपको बता दें कि ये जरूरी नहीं कि मूंगा हर व्यक्ति के लिए लाभदायक सिद्ध हो। कुछ राशि वालों के लिए यह हानिकारक भी सिद्ध हो सकता है। आइए जानते हैं मूंगा किन राशि वालों को धारण करने से बचना चाहिए।

Gemology Coral Stone (Moonga Ratna)

Gemology
Gemology

ऐसा होता है मूंगा:
रत्न शास्त्र अनुसार मूंगा लाल, सिंदूरी, गेरुआ, सफेद तथा काले रंग का होता है। मूंगा रत्न धारण करने से मंगल ग्रह मजबूत होता है जिससे इस ग्रह के शुभ प्रभावों में वृद्धि होने लगती है। इस रत्न को अंग्रेजी में कोरल कहते हैं। मूंगा रंग भी छोड़ता है। यह समुद्र की गहराइयों में पाया जाता है। यह एक प्रकार की लकड़ी होती है।

इन राशि वालों को नहीं पहनना चाहिए मूंगा:
ज्योतिष शास्त्र के अनुसार मकर और कुंभ राशि के लोगों को मूंगा धारण करने से बचना चाहिए। क्योंकि इस राशियों के स्वामी से मंगल देव से शत्रुता रखते हैं। अगर आप मूंगा धारण करेंगे तो करियर और कार्यक्षेत्र में कई समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है। घर की सुख- शांति भी जा सकती है। वहीं मूंगा के साथ गोमेद भी नहीं धारण करना चाहिए। क्योंकि राहु और मंगल ग्रह में शत्रुता का भाव है।

कब है गुरु पूर्णिमा, जानें तिथि, शुभ मुहूर्त और महत्व Guru Purnima 2022

जुलाई में इन राशि वालों का बढ़ेगा बैंक बैलेंस, जानें कारण Lucky Zodiac

Gemology
Gemology

इस स्थिति में भी न धारण करें मूंगा:
ज्योतिष शास्त्र के अनुसार मेष लग्न वालों का मंगल लग्न, यानी शरीर और आठवें घर का स्वामी, यानी लग्नेश और अष्टमेश है। लग्नेश को शुभ माना जाता है और अष्टमेश को अशुभ माना जाता है। अष्टम स्थान आयु और मृत्यु से संबंधित है, इसलिए मेष राशी वालों को मूंगा सावधानीपूर्वक किसी अनुभवी ज्योतिषी की देखरेख में ही पहनना चाहिए। वहीं वृष लग्न वालों के लिये मंगल सातवें और बारहवें भाव का स्वामी होता है, यानी सप्तमेश होता है और सप्तमेश मारकेश माना जाता है। इसलिए मूंगा आपके लिये मारक है और व्ययेश भी शुभ नहीं माना जाता है। इस कारण आपको मूंगा धारण नहीं करना चाहिए।

कब है गुरु पूर्णिमा, जानें तिथि, शुभ मुहूर्त और महत्व Guru Purnima 2022

जौं के इन उपायों से छूमंतर हो जाती हैं समस्याएं Jau Ke Upay

Gemology
Gemology

ज्योतिष के चमत्कारी उपाय,  व्रत एवं त्योहार फ्री सर्विस और रोचक जानकारी के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करें और ट्वीटर @ganeshavoice1 पर फॉलो करें।

ज्योतिष, धर्म, व्रत एवं त्योहार से जुड़ी ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए  ज्वाइन करें हमारा टेलिग्राम चैनल

Google News पर हमसे जुड़ने के लिए हमें यहां क्लीक कर फॉलो करें।