lal kitab 1 ganeshavoice.in आता है बहुत गुस्सा या बिगड़ रहा काम, यह उपाय आएंगे आपके काम Lal Kitab ke Totke
राशिफल लाल किताब

आता है बहुत गुस्सा या बिगड़ रहा काम, यह उपाय आएंगे आपके काम Lal Kitab ke Totke

Lal Kitab ke Totke : मंगल नवग्रहों में से एक है। लाल किताब में दो तरह के मंगल का जिक्र है नेक मंगल और बद मंगल। नेक मंगल के देवता हनुमान जी हैं और नेक मंगल शुभफल देता है। बद मंगल पर जिन्न या प्रेत आत्म का प्रभाव होता है। नेक मंगल जब किसी पर हावी होता है तो ऐसा इंसान बेहद नकारात्मकता से भरा होता है।

lal kitab 1 ganeshavoice.in आता है बहुत गुस्सा या बिगड़ रहा काम, यह उपाय आएंगे आपके काम Lal Kitab ke Totke

जीवनसाथी की तलाश हुई आसान! फ्री रजिस्ट्रेशन करके तलाश करें अपना हमसफर

समस्या है तो समाधान भी है, विद्वान ज्योतिषी से फ्री में लें परामर्श

साथ ही इसमें गुस्सा, चिड़चिड़ापन और काम बिगाड़ने के संकेत देखने को मिलते हैं। हालांकि मंगल दोष के प्रभाव कम या ज्यादा सभी पर कुछ न कुछ होते हैं, लेकिन यदि बद मंगल हावी हो तो इंसान पर इसके अशुभ प्रभाव नजर आते हैं। लाल किताब में बद मंगल के लक्षण, निशानी और इसके आधार पर उपाय भी बताए गए हैं।

नव वर्ष पर घर लाएं ये चीजें, घर में आएगी समृद्धि Welcome New Year 2022

ऐसे पहचानें व्यक्ति में बद मंगल के दिखने वाले लक्षण

मंगल बद होने का पहला लक्षण होता है कि संबंधित व्यक्ति के बड़े भाई के नहीं होने की संभावना होती है।
यदि उसका भाई हो तो बड़े भाई से दुश्मनी रहती है।
बद मंगल बच्चे पैदा करने में अड़चन पैदा करता है या बच्चे होकर मर जाते हैं।
बद मंगल यदि हावी तो एक आंख से कम दिखाई देता है।
बंद मंगल गुस्से को बढ़ा देता है। इंसान गुस्से में पागल हो जाता है।
बद मंगल हावी हो तो जोड़ों की समस्या के साथ रक्त की कमी या अशुद्धि की दिक्कत भी होती है।

क्या 2022 में होगा तृतीय विश्वयुद्ध, क्या खत्म हो जाएंगे कई देश ? 

मंगल नेक हो हावी तो दिखते हैं ऐसे लक्षण

नेक मंगल जिनका होता है वे न्यायप्रिय और ईमानदार होते हैं।
नेक मंगल वाले साहसी और नेतृत्व क्षमता वाले होते हैं।
मंगल नेक होता है तो इंसान के अंदर अच्छाई होती है ये लोग नेक काम करते हैं।

सूर्य ग्रहण 4 दिसंबर को, इन राशियों पर पड़ेगा शुभ-अशुभ प्रभाव 

मिल रहे विपरीत परिणाम तो ये उपाय अपनाएं

बद मंगल के प्रभाव से हनुमान जी ही बचा सकते हैं इसलिए उनकी आराधना करें।
मंगल बहुत खराब हो तो ऐसे लोगों को आंखों में सफेद सूरमा जरूर लगाना चाहिए।
बद मंगल के बुरे प्रभाव या काम बिगड़ने से रोके लिए जब भी घर से बाहर निकलें, गुड़ खा लें।
बद मंगल खराब होता है तो भाई से रिश्ते खराब करता है, लेकिन ऐसे में जरूरी है कि आप अपने भाई से कोशिश कर रिश्ते को बेहतर बनानते रहें।
क्रोध और वाचालता से दूर रखने का हर संभव प्रयास करना चाहिए।
बद मंगल से मुक्ति के लिए पिता और गुरु का सम्मान करें।
लाल किताब के ये चमत्कारिक उपाय बद मंगल को दूर कर आपके जीवन को सुखमय बना सकते हैं।

ज्योतिष के चमत्कारी उपाय, फ्री सर्विस और रोचक जानकारी के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करें और ट्वीटर @ganeshavoice1 पर फॉलो करें।

ज्योतिष, धर्म, व्रत एवं त्योहार से जुड़ी ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए  ज्वाइन करें हमारा टेलिग्राम चैनल

Google News पर हमसे जुड़ने के लिए हमें यहां क्लीक कर फॉलो करें।

maheshshivapress
महेश के. शिवा www.ganeshavoice.in के मुख्य संपादक हैं। जो सनातन संस्कृति, धर्म, संस्कृति और हिन्दी के अनेक विषयों पर लिखतें हैं। इन्हें ज्योतिष विज्ञान और वेदों से बहुत लगाव है।
http://ganeshavoice.in