mohini
ज्योतिष जानकारी नवग्रह रत्न विज्ञान

Stone कौन सा रत्न पहने और किस देवी देवता का पूजन करे, जाने लग्न और राशि अनुसार

Stone के बारे में प्रत्येक व्यक्ति को यह जानने की इच्छा रहती है कि वह अपने जीवन में तरक्की के लिए भाग्य उदय के लिए कौन सा रत्न पहने और किस देवी देवता का पूजन करें, जिससे उनका जीवन खुशियों से भर जाए और सुख समृद्धि प्राप्त हो। इसके लिए सबसे ज्यादा जरूरी है कुंडली का अवलोकन करना और उसमें देखना की आपकी लगन क्या है और राशि क्या है I लगन और राशि के अनुसार अगर आप स्टोन पहनते हैं कोई रत्न पहनते हैं और उन के अनुसार देवी देवता का पूजन करते है  तो जीवन में आने वाली बहुत सी कठिनाइयों को दूर किया जा सकता है और सफलता के राह पर चला जा सकता है।

mohini

समस्या है तो समाधान भी है, विद्वान ज्योतिषी से फ्री में लें परामर्श

मेष: आपको सुर्य भग्वान की आराधना करनी चाहिए, सुबह सुर्य उदय के दो घण्टे के अंदर सुर्य को जल दे, जल देने की भी एक क्रिया है, सही समय पर सही तरह से दिया गया जल ही मान्य है,  साथ ही आदित्य ह्रदय स्रोत्र का पाठ करे, एक बार मे तीन बार करने से ही फल मिलता है, यह पाठ पुर्व की तरफ मुहँ कर बैठ कर करते है, फिर ताँबे के लोटे से जल देते है, सुर्य देव को अपना इष्ट समझ कर उनकी पुजा आराधना करे जिससे आपको सरकारी नौकरी, मान प्रतिष्ठा मिलती है साथ मे ही जीवन मे आई परेशानी से आसानी से लड सकते है। आपको रत्न माणिकय व मोती या पुखराज पहन सकते है।

वृष: आपको गणेश जी की पुजा आराधना करनी चाहिए, जिससे आपको बुदधि मिलती है, सभी विघ्न हरते है गणेश जी। उनकी पुजा मे आप उनको दुर्वा चढाए साथ ही हरे रंग के कपडे भेंट करे और हरे मुंग की दाल दे, इससे आपका बुध ग्रह भी ठीक होगा। गणेश जी को तुलसी चढाना वर्जित है, उनको मोदक बहुत पसंद है। अपने हाथो से घर मे मोदक बनाए फिर भोग लगा कर सबको प्रशाद दे। उनकी आराधना करने के लिए आपको उनकी स्तुति, चालिसा, संकट नाशक स्रोत व उनके मंत्रो का जाप करे। ये आराधना उत्तर कि तरफ मुख कर करनी चाहिए जिससे आपको धन, बुद्धि, वैभव, अच्छा स्वास्थय, शुद्ध वाणी, लेखन, कर्ज से मुक्ति, व सारे विघ्न खत्म हो जाते है। आपको पन्ना, नीलम या हीरा पहन सकते है।

इस माला को पहनने से चुंबक की तरह खींचा चला आता है रूपया

मिथुन: आपको दुर्गा माँ व लक्ष्मी जी की पुजा आराधना करनी चाहिए जिसमे आपको विश्वास हो उन्ही की आराधना करे। दुर्गा माँ के लिए आपको दुर्गा सप्तशती का पाठ करे, साथ मे हर शुक्रवार को द्स दस साल तक की छोटी कन्या को कंजक दे, फिर उनका आशिर्वाद ले। जब साल मे दो बार नवरात्रे आते है, तब पुरी विधि विधान से पुजा आराधना व व्रत करे। माँ लक्ष्मी की आराधना के लिए आप स्तुति, चालिसा व मंत्रो को विधि विधान से पढने से माँ की कृपा होती है। जिससे आपको धन सुख सम्पति आक्रषण मिलता है, साथ मे मानसिक क्लेश भी खत्म होते है, जिनका विवह नही हो रहा या विवाहित जीवन सुखी नही है उनको इनकी आराधना करनी चाहिए, आपको पन्ना, हीरा पहनना चाहिए।

बीमारियों को भी दूर करते हैं राशि रत्न, जानिए क्या होती है खासियत

कर्क: आपको हनुमान जी की आराधना करनी चाहिए, आपकी किस्मत देखो हनुमान जी को तो साक्षात धरती पर रहने का राम जी ने आदेश दिया हुआ है। चिरंजीवी है, हमारे बजरंग बली, इनकी आराधना करने से सारे कष्ट खत्म हो जाते है, अगर विश्वास पुजा की जाए। इनकी आराधना के लिए आपको सुंदर कांड का पाठ, हनुमान चालिसा, बजरंग बाण पाठ चमेली के तेल की जोत जला कर करना चाहिए। हर मंगलवार को चोला चढा कर केले बांटे साथ मे ही बंदरो को गुड चने दे। लोग कहते है कि औरतो को हनुमान जी की आराधना नही करनी चाहिए ऐसा नही है, हम सब उनकी पुजा आराधना कर सक्ते है। इनका सिंदुर माथे पर लगाने से सौभाग्य बढता है, साथ मे पति की मंगल कामना भी करे। जिनको मुकद्मो मे जीत चाहिए वह भी हनुमान जी की आराधना करे और रोज़ माथे पर तिलक करे। आप मोती, माणिकय, मुंगा, पुखराज पहनना चाहिए।

यह मणि होती है जिसके पास, वह हो जाता है मालामाल, जानिए इसके रहस्य

सिंह; आपको भग्वान विश्णु जी की आराधना करनी चाहिए,जिसमे आप राम जी की या कृष्ण जी की आराधना करनी चाहिए आपको सुर्य को नियमित जल देना चाहिए। राम जी की आराधना के लिए आपको राम रक्षा स्रोत का पाठ करना चाहिए, और रामायण का अखण्ड पाठ भी करवाना चाहिए। जिससे राम जी की कृपा बनी रहे। कृष्ण जी की आराधना के लिए आप्को गीता का पाठ, सुखसागर, नारायण कवच करना चाहिए और मंत्रो का जाप भी करना चाहिए। संतान न होने पर या संतान पर कोई परेशानी हो सब ठीक हो जाता हे, साथ मे घर मे तुलसी जरुर लगाए उनकी आराधना भी करे। आपको माणिक्य, पन्ना, मुंगा पहनना चाहिए।

हीरा पहनने से मालामाल और कंगाल भी होते हैं लोग, लेकिन क्यों

कन्या: आपको शंकर भग्वान की आराधना करनी चाहिए जो भोले है हर तरह से खुश हो जाते है, भोलेनाथ जो है वो। फिर भी आपको  रोज़ शिवलिंग पर जल चढाना चाहिए, उनको सफेद फुल, ब्रेल पत्र, धतुरे व भांग चढानी चाहिए। व सोमवार को किसी बुजुर्ग औरत को दुध दे, और शिव चालिसा, स्रोत्र, मंत्रो मे महामृत्युंजय का जाप करे आपकी सभी परेशानी दुर होगी, व बीमारियो, कष्टो से राहत मिलती है, आपको रुद्राक्ष भी पहनना चाहिए। आपको पन्ना, हीरा, नीलम पहनना चाहिए।

शनि ग्रह की पीड़ा शांत करने के लिए पहनते हैं ये 5 तरह के रत्न

तुला; आपको भी शंकर जी की आराधना करनी चाहिए,आपको घर मे पारद का शिवलिंग रखना चाहिए और उनकी नियमत पुजा आराधना करनी चाहिए, भग्वान को आशुतोश भी कहा जाता है जो बिल्व पत्र से ही खुश हो जाते हे, शिव पुरान मे लिखा है जो इनको तीन दलो से युक्त बिल्व पत्र चढाते है, उनके तीन जन्मो के पापो का नाश हो जाता है, पर विश्वास से करना चाहिए। त्रिगुनात्मक शिव की कृपा भौतिक संसाधनो से युक्त होती है, सावन मास मे यह करने से बहुत जल्दी फल मिलता है, शिवजी को केतकी व केवडे का फुल नही चढाना चाहिए। कुमकुम, रोली, हल्दी भी नाही लगाई जाती, तुलसी दल व नरियल पानी भी न चढाए, इनको चंदन बहुत पसंद है। आपको नीलम,पन्ना, मोती पहनना चाहिए।

सुलेमानी काला हकीक धारण करने से चमत्कारी रुप से आता है धन

वृश्चिक: आपको विष्णु जी के अवतार राम जी या कृष्ण जी  की आराधना करनी चाहिए, राम जी की आराधना ज्यादा फल देगी आपको, राम रक्षा स्रोत्र, विश्णु सह्रस्र्नाम का पाठ तीन बार करना चाहिए जिससे आपके जीवन की सारी कमी दुर हो जाती है, साथ मे शारिरिक परेशानी व कर्ज से निजात मिलता है, जो बच्चे पढते नही है, और जिनके काम बनते बनते बिगड जाते है, उनको यह पाठ करना चाहिए, घर मे रामायण का पाठ पुरे परिवार सहित पढना चाहिए, जिससे आपस मे प्यार बढता है, व परेशानी दुर होती है, आप्को पुखराज, मोती, माणिक्य पहनने से  लाभ मिलता है।

Millionaire करोड़पति बनना है तो घर में लगाये ये पौधे

धनु: आपको हनुमान जी की आराधना करनी चाहिए, भग्वान राम भक्त हनुमान की आराधना करने से जीवन के सारे कष्ट, संकट, मिट जाते है, माना जाता है, कि इनकी आराधना करने से ये जल्दी प्रसन्न होते है, आप सोचते है कि हमारा जीवन इतनी परेशानी व कठिनाइयो से भरा है, तो निजात पाने के लिए करिए इनकी उपासना और पाइए निजात्। इनके मंत्रो का जाप करे और सुंदर कांड का पाठ करे, हनुमान अष्टक, हनुमान बाहु, का नियमित रुप से पाठ करने से आपको इनकी पुजा का फल मिलेगा। परिवार के साथ मिल कर सुंदर कांड का पाठ करने से घर मे सुख शांति आती है। आपको पुखराज, मुंगा, मोती, माणिक्य पहनना चाहिए।

ऐसा करेंगे तो ब्यूटी पार्लर खूब चलेगा ज्योतिष Astrology संबंधित कुछ टिप्स

मकर: आपको दुर्गा जी की आराधना करनी चाहिए, काली स्वरुप की पुजा करने से अधिक फल मिलता है, आपको हर शुक्र्वार को दस साल तक की कन्या को कंजक देनी चाहिए, और काली माँ के मंदिर जा कर गुलाब के फुल, व गुलाब जामुन का भोग लगाए, साथ मे नारियल की भेंट भी चढाए, काली चालिसा व स्रोत्र पढे, दुर्गा सप्तशति का पाठ जिसमे अगृला स्रोत्र का पाठ अवश्य करे, हर अश्ट्मी को कन्या को घर बुला कर हलवा पुरी खिलाए। माँ को लौंग, इलायची, का भोग लगा कर कपुर की आरती करे,माता की आराधना पुर्व की ओर मुख करके लाल आसन बिछा कर करे। आपको नीलम, हीरा, पन्ना पहनना चाहिए।

भाग्य भी बदलती है रोटी Roti , जानिए 5 चमत्कारी उपाय

कुम्भ: आपको गणेश जी की आराधना करनी चाहिए, चालिसा, गणेश अर्थ्वशीश, गजेंद्र मोक्ष का पाठ व नियमित रुप से मंत्रो का जाप करना चाहिए, बैठी हुई मुर्ति की आराधना करे साथ ही आपका मुख उत्तर की और होना चाहिए, मोदक का भोग लगाए साथ मे दुर्वा भी चढानी चाहिए घर मे कभी तीन मुर्ति न रखे, तीन बार परिक्रमा करर्नी चाहिए, भग्वान गजानन बुद्धि के दाता है, इनकी आराधना करने से पढाई मे बहुत अच्छे नम्बर आते है, याद किया हुआ कभी नही भुलते, यादाश्त भी अच्छी होती है, आप्को हीरा, पुखराज, नीलम पहनना चाहिए:।

जूते बदल सकते हैं आपकी किस्मत | बस रखें इन बातों का ध्यान

मीन: आपको शिव जी की आराधना करनी चाहिए, साथ ही चंद्र्मा की विशेष रुप से पुजा करनी चाहिए, सोमवार को माँ सामान गरीब औरत को दुध दे, खीर का भोग पुर्णिमा को लगा कर खुद भी खाए माँ को भी खिलाए, चाँदी की चैन गले मे जरुर पह्ने, नियमित रुप से शिव चालिसा, स्रोत्र, शिव पुराण का पाठ करे, नियमित रुप से शिवलिंग पर जल चढाए, व शिव और चंद्र्मा के मंत्रो का जाप करे, जिससे मानसिक परेशानी से निजात मिलती है, और घर मे सुख शांर्ति के साथ परिवार मे प्रेम रहता ह्रै, नुकसान हो रहा हो तब भी इनकी आराधना करे, विश्वास से पुजा आराधना करने से सभी कष्ट दुर होते है, भग्वान की हम पर कृपा बनी रहती है, आप्को पुखराज, मोती, मुंगा पहनना चाहिए।

क्या विवाह होने में हो रहा है विलम्ब और परेशानी तो करे ये अचूक उपाय totke

ज्योतिष के चमत्कारी उपाय, फ्री सर्विस और रोचक जानकारी के लिए ज्वाइन करें हमारा टेलिग्राम चैनल

ज्योतिष, धर्म, व्रत एवं त्योहार से जुड़ी ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करें और ट्वीटर @ganeshavoice1 पर फॉलो करें।

maheshshivapress
महेश के. शिवा www.ganeshavoice.in के मुख्य संपादक हैं। जो सनातन संस्कृति, धर्म, संस्कृति और हिन्दी के अनेक विषयों पर लिखतें हैं। इन्हें ज्योतिष विज्ञान और वेदों से बहुत लगाव है।
http://ganeshavoice.in