dukan 1
वास्तु टिप्स

नहीं चल रही है आपकी दुकान shop तो इन कमियों को आज ही करें दूर, नहीं टूटेगी ग्राहकों की लाइन

दुकान (shop)  एक ऐसा कारोबार स्थल है, जो हर जगह पाया जाता है। गांव हो या शहर, मेट्रो सिटी हो या कस्बा सभी जगह दुकानें स्थित हैं। कुछ दुकानदारों की शिकायत होती है कि दुकान में माल भरा होने के बाद भी दुकान नहीं चल रही है। उसकी दुकान (shop) पर आने वाला ग्राहक भी दूसरी दुकान (shop) पर जाने लगा है। इसके कई कारण हो सकते हैं। इस लेख में हर इसी पर चर्चा करेंगे।

dukan 1

दुकान (shop) के ठीक सामने कोई बिजली या फोन का खंबा, पेड़ अथवा सीढ़ी नहीं होना चाहिए यदि है तो आर्थिक नुकसान होगा।

समस्या है तो समाधान भी है, विद्वान ज्योतिषी से फ्री में लें परामर्श

दुकान (shop) के अंदर समान रखने के लिए आलमारी, शो-केस, फर्नीचर आदि दक्षिण-पश्चिम या नैऋत्य में लगाएं।

दुकान (shop) में माल का स्टोर, या कोई भी वैसा सामान जिसका वजन ज्यादा हो उसे नैऋत्य कोण (दक्षिण या पश्चिम) में रखना चाहिए.पूजा के लिए मंदिर ईशान, उत्तर या पूर्व में बनाएं।

दुकान (shop) या शोरूम के मालिक को पश्चिम दिशा में बैठना चाहिए। ऐसा करने से आय में वृद्धि होती है। मालिक या मैनेजर तथा तिजोरी की जगह के ऊपर कोई बीम नहीं होना चाहिए, यह व्यवसाय के वृद्धि के लिए अच्छा नहीं होता।

दुकान (shop) में काम करने वाले दुकानदार और कर्मचारी इस बात का ध्यान रखें की वह दूकान में बैठे तब उनका मुख पूर्व अथवा उत्तर दिशा में हो इस दिशा में मुख करके बैठने से धन लाभ होता है। ऐसा करने से ग्राहक का दुकानदार और कर्मचारियों के मध्य बेहतर सम्बन्ध बना रहता है।

यदि आपकी दुकान (shop) में दुकानदार एवं कर्मचारी पश्चिम या दक्षिण की ओर मुख करके बैठते है तो सामान्यतः धन व्यय और कष्ट होता है।

दुकान (shop) की तिजोरी को पश्चिम या दक्षिण दीवार के सहारे रखना शुभ होता है जिससे उसका मुख उत्तर या पूर्व दिशा की ओर हो।

यदि दुकान (shop) में टीवी या कंप्यूटर रखना चाहते हैं, तो दक्षिणपूर्व दिशा सबसे शुभ है। दुकान खोलते समय तथा शाम को बिजली जलाने के बाद कभी भी दान नही देना चाहिए।

कभी भी दान फेंककर न दें, साथ ही दान देते समय, धरती या आसमान की ओर नहीं देखना चाहिए।

दुकान (shop) की उत्तर या पूर्व दिशा में देवी लक्ष्मी और गणेश की मूर्ति रखने व्यापार में लाभ होता है।
दुकान (shop) में अपने कुल देवता अथवा इष्ट देवी / देवता की तस्वीर लगानी चाहिए।

दुकान (shop) के मालिक या कर्मचारी जब भी दान दें तो मुंह पूर्व या उत्तर की तरफ करके ही दें ऐसा करने से धन लाभ होती है।

यदि आपकी दुकान में बरकत न हो रही है, तो गणेश जी की मूर्ति मुख्य प्रवेश द्वार के ऊपर लगाए. यह मूर्ति दीवार के आगे-पीछे दोनों तरफ लगाएं।

यदि आपकी दुकान दक्षिण मुखी है तो गणेश जी की मूर्ति केवल मुख्य दरवाजे के बाहर की ओर ही लगाना चाहिए।

ज्योतिष के चमत्कारी उपाय, फ्री सर्विस और रोचक जानकारी के लिए ज्वाइन करें हमारा टेलिग्राम चैनल

ज्योतिष, धर्म, व्रत एवं त्योहार से जुड़ी ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करें और ट्वीटर @ganeshavoice1 पर फॉलो करें।

maheshshivapress
महेश कुमार शिवा www.ganeshavoice.in के मुख्य संपादक हैं। जो सनातन संस्कृति, धर्म, संस्कृति और हिन्दी के अनेक विषयों पर लिखतें हैं। इन्हें ज्योतिष विज्ञान और वेदों से बहुत लगाव है।
http://ganeshavoice.in