judgement 1
टैरो कार्ड

टैरो कार्ड रीडिंग : नए कार्यों को शुरु करने की जानकारी देता है जजमेंट कार्ड

Pritee sanjay 1
प्रीति संजय, टैरो कार्ड रीडर

प्रीति संजय, टैरो कार्ड रीडर
नई दिल्ली। टैरो कार्ड पर की जा रही चर्चा के तहत अब बढ़ते हैं अगले टैरो कार्ड की तरफ। यह टैरो कार्ड जजमेंट के नाम से जाना जाता है। इस कार्ड के माध्यम से हम नए प्रयास, नए फैसले और नए कार्यों को आरंभ करने के बारे में जान सकते हैं।

जजमेंट कार्ड :

“हे प्रभु हमें अपनी शरण में ले और हमारे पापों को क्षमा कर” इस तरह के धर्म वाक्य की गूंज इस कार्ड से आती है। अपनी गलतियों के एहसास का अवसर बहुत महत्वपूर्ण बदलाव लाने में सक्षम होता है। नए प्रयास करें, नए फैसले ले, नए कार्यों का आरंभ करें। बाकी कार्डों के साथ जब इसे पढ़ा जाता है तो यह उन कार्डों के अर्थ को और गति प्रदान करता है।

समस्या है तो समाधान भी है। फ्री में ज्योतिष से बात करें। यहां क्लीक करें।

इससे यह अर्थ निकलता है कि संभावित परिणाम अपेक्षा से भी तेज गति से आएंगे। खुद के भीतर झांककर न्याय पूर्वक परिस्थिति को तौल लें। फैसला सुनाया जा रहा है, आपके बारे में दूसरों का हो या दूसरों के बारे में आपका। आपको समान पूर्वाग्रह तिरोहित कर देने हैं। क्रोध का नहीं, कृतज्ञता का समय है। दूसरों की गलतियों पर उन्हें दोबारा अवसर देने की बढ़ाई अगर दिखाना है तो आपका कद भी बढ़ने वाला है।

बनना है करोड़पति तो बिल्ली की जेर का यह उपाय जरुर आजमाएं

पुनर्जन्म की तरह, आप पुरानी परिस्थितियों से निकलकर नए रूप में नवजीवन के लिए तैयार होने जा रहे हैं। आपको इस तैयारी के लिए निर्मल मन की आवश्यकता है अन्यथा, न्याय की बेला में आप की पुकार का कोई अर्थ नहीं रह जाएगा।

आपके हस्ताक्षर बना सकते हैं आपका भविष्य, मगर कैसे ?

अवसरों की अनदेखी भय तथा अनर्थ कारी जिद परिणामों मैं अनावश्यक देरी पैदा कर सकती है। बदलाव को अस्वीकार ना करें बदले। उपहारों के लिए कृतज्ञ हो, भविष्य के लिए आस्था पूर्वक तैयार हो। प्लूटो ग्रह से नियंत्रित एवं अग्नि तत्व वाला यह जजमेंट कार्ड आपको उत्थान का एक अवसर देने आया है।

समस्या है तो समाधान भी है। फ्री में ज्योतिष से बात करें। यहां क्लीक करें।

maheshshivapress
महेश कुमार शिवा www.ganeshavoice.in के मुख्य संपादक हैं। जो सनातन संस्कृति, धर्म, संस्कृति और हिन्दी के अनेक विषयों पर लिखतें हैं। इन्हें ज्योतिष विज्ञान और वेदों से बहुत लगाव है।
http://ganeshavoice.in

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *