1624351280 4712 1
घरेलू नुस्खे राशिफल

क्या है निपाह वायरस ? जानिए लक्षण और उपचार : Health Tips

Health Tips : कोरोना वायरस की तीसरी लहर को लेकर कई अनुमान अभी लगाए जा रहे हैं। कोविड में सबसे प्रमुख रूप से डेल्‍टा वेरिएंट साबित हुआ है। अगर डेल्‍टा वेरिएंट में म्यूटेशन होता है और उससे अधिक खतरनाक वेरिएंट आता है तो कोरोना की तीसरी लहर की संभावना बढ़ जाएगी। वहीं केरल में 12 साल के युवक की निपाह वायरस से मौत हो गई।

1624351280 4712 1

जीवनसाथी की तलाश हुई आसान! फ्री रजिस्ट्रेशन करके तलाश करें अपना हमसफर

समस्या है तो समाधान भी है, विद्वान ज्योतिषी से फ्री में लें परामर्श

गौरतलब है कि साल 2018 में केरल में निपाह वायरस फैला था। युवक के शरीर से सैंपल को जांच के लिए राष्‍ट्रीय विषाणु विज्ञान, पुणे भेजा गया था। रिपोर्ट में निपाह वायरस की पुष्टि हुई थी। आइए जानते हैं क्‍या है निपाह वायरस, लक्षण और बचाव के उपाय…

यदि आप जिम जा रहे हैं तो रहिए सचेत, ये हैं 10 बड़ी सावधानियां : Gym Tips

निपाह वायरस जानवरों से इंसान में फैलता है। यह वायरस चमगादड़ों और सूअर के माध्‍यम से भी इंसानों में फैलता है। निपाह वायरस से संक्रमित मरीज के संबंध में आए अन्‍य व्‍यक्ति को भी यह वायरस हो सकता है। उपलब्‍ध जानकारी के मुताबिक यह वायरस चमगादड़ या सूअर के द्वारा खाने वाले फल से भी हो सकता है। अगर किसी मरीज की मौत निपाह वायरस से होती है तो परिवार के अन्‍य सदस्‍य को जांच जरूर कराना चाहिए।

कब्ज, गैस और हार्ट ब्लाकेज को दूर करता है यह प्राणायाम,चमत्कारिक हैं इसके लाभ

निपाह वायरस के लक्षण –
– तेज बुखार, सिरदर्द, सांस लेने में तकलीफ होना।
– सांस नली में खतरनाक संक्रमण होना।
– मांसपेशियों में दर्द, उल्‍टी, अनिद्रा की समस्‍या, गले में कफ होना, थकान लगना।
– इंसेफेलाइटिस के लक्षण दिखाई देना। यानी दिमाग में सूजन आ जाना। यह बीमारी बच्‍चों में होती है।
-इनक्‍यूबेशन पीरियड 5 से 14 दिन और 45 दिन तक हो सकता है।
– निमोनिया भी हो सकता है।

दांतों को बुढ़ापे तक रखना है मजबूत तो अपनाएं ये टिप्स : Health Tips

निपाह वायरस से बचाव के उपाय-

– साबुन से हाथ धोते रहे।
– कच्‍चे खजूर के फल और उसके रस को पीने से बचें।
– निपाह से संक्रमित व्‍यक्ति की मौत होने पर उसके संपर्क में आने से बचें। अंतिम संस्‍कार में जरूरी ए‍हतियात बरतें।
– फल और सब्जियों को अच्‍छी तरह से धोकर खाएं।
– जानवर की देखभाल करते वक्‍त सावधानी बरतें। हाथों में दस्‍ताने पहने और मुंह पर मास्‍क लगाकर रखें।
– क्षेत्र में हो रहे सूअर से दूरी बनाकर रखें।
– कटे हुए फल खरीदने और खाने दोनों से बचें।
– मरीज के पास बिना मास्‍क के नहीं जाएं।

शुगर के रोगियों को करना चाहिए इस पानी का सेवन : Health Care Tips

निपाह वायरस की जांच

– बीमारी को समझने की लिए RT-PCR टेस्‍ट करा सकते हैं। इसके अलावा PCR सीरम न्यूट्रलाइजेशन टेस्‍ट और एलाइजा टेस्‍ट के जरिए भी इस वायरस की पहचान की जा सकती है। गौरतलब है कि निपाह वायरस से साल 2018 में करीब 17 लोगों की जान चली गई थी। सबसे पहला मामला दक्षिण भारत केरल के कोझिकोड में दर्ज किया गया था। वर्तमान में इस वायरस की कोई वैक्‍सीन या प्रमुख रूप से कोई दवा उपलब्‍ध नहीं है। निपाह वायरस को डेडली वायरस भी कहा जाता है।

ज्योतिष के चमत्कारी उपाय, फ्री सर्विस और रोचक जानकारी के लिए ज्वाइन करें हमारा टेलिग्राम चैनल

Google News पर हमसे जुड़ने के लिए हमें यहां क्लीक कर फॉलो करें।

ज्योतिष, धर्म, व्रत एवं त्योहार से जुड़ी ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करें और ट्वीटर @ganeshavoice1 पर फॉलो करें।

maheshshivapress
महेश के. शिवा www.ganeshavoice.in के मुख्य संपादक हैं। जो सनातन संस्कृति, धर्म, संस्कृति और हिन्दी के अनेक विषयों पर लिखतें हैं। इन्हें ज्योतिष विज्ञान और वेदों से बहुत लगाव है।
http://ganeshavoice.in