Shri Ambabai Temple of Kolhapur 1 1
धर्म दर्शन राशिफल

इन मंदिरों में मां लक्ष्मी के दर्शन मात्र से भर जाते हैं धन के भंडार : Famous Temples of Maa Lakshmi

Famous Temples of Maa Lakshmi : सनातन परंपरा में धन की देवी मां लक्ष्मी की साधना अनंत काल से न सिर्फ मनुष्य बल्कि देवी-देवता तक करते चले आ रहे हैं। यही कारण है कि पूर्व से लेकर पश्चिम तक और उत्तर से लेकर दक्षिण तक धन, वैभव, ऐश्वर्य, संपन्नता और समृद्धि की देवी के देश में कई पावन धाम हैं, जहां पर जाकर दर्शन मात्र करने से मां लक्ष्मी का आशीर्वाद प्राप्त होता है और घर में कभी धन-धान्य की कोई कमी नहीं होती है। आइए देश के कुछ ऐसे प्रसिद्ध महालक्ष्मी मंदिरों के बारे में विस्तार से जानते हैं।

Shri Ambabai Temple of Kolhapur 1 1

जीवनसाथी की तलाश हुई आसान! फ्री रजिस्ट्रेशन करके तलाश करें अपना हमसफर

समस्या है तो समाधान भी है, विद्वान ज्योतिषी से फ्री में लें परामर्श

कोल्हापुर का महालक्ष्मी मंदिर
महालक्ष्मी का यह पावन धाम महाराष्ट्र के कोल्हापुर जिले में स्थित है। मंदिर के मुख्य गर्भगृह में लगभग चार फिट लंबी और 40 किलो वजन वाली महालक्ष्मी की प्रतिमा स्थापित है। मान्यता है कि माता की यह मूर्ति तकरीबन 7,000 साल पुरानी है। स्थानीय लोग इस मंदिर को अंबाबाई मंदिर के नाम से जानते हैं। मान्यता है कि महालक्ष्मी के इस मंदिर का निर्माण चालुक्य शासक कर्णदेव ने 7वीं शताब्दी में करवाया था।

Ganesh Visarjan 2021: गणपति विसर्जन, जानें शुभ मुहूर्त और पूजा की सही विधि

मुंबई का महालक्ष्मी मंदिर
महालक्ष्मी का यह पावन धाम मुंबई महानगर में समुद्र के किनारे बी. देसाई मार्ग पर स्थित है। मां लक्ष्मी के इस भव्य मंदिर में माता महालक्ष्मी की अत्यंत आकर्षक प्रतिमा है, जिसके दर्शन के लिए यहां पर प्रतिदिन देश-विदेश से लोग पहुंचते हैं। मंदिर के गर्भगृह में महालक्ष्मी के साथ महाकाली और महासरस्वती भी विराजमान हैं। मान्यता है कि अंग्रेजों के काल में एक ठेकेदार रामजी शिवाजी के सपने में मां लक्ष्मी प्रकट हुईं और उसे समुद्र से तीन देवियों की मूर्ति को निकाल कर स्थापित करने का आदेश दिया था, तब से यहां पर धन की देवी की पूजा चली आ रही है।

इन वस्तुओं का फर्श गिरना होता है अशुभ, आपके साथ हो सकता है…Vastu

दिल्ली का लक्ष्मीनारायण मंदिर
देश की राजधानी दिल्ली के प्रसिद्ध मंदिरों से एक लक्ष्मी नारायण मंदिर को 1622 में वीरसिंह देव ने बनवाया था। जिसका 1793 में पृथ्वीसिंह ने जीर्णोद्धार कराया था। इस मंदिर को बिड़ला मंदिर के नाम से भी जाना जाता है क्योंकि 1938 में भारत के बड़े औद्योगिक परिवार बिड़ला समूह ने इसका विस्तार और पुनरुद्धार कराया था। बिड़ला मंदिर में मां लक्ष्मी भगवान विष्णु के साथ विराजमान हैं। साथ ही मंदिर में अन्य देवी-देवताओं की भी आकर्षक प्रतिमाएं मौजूद हैं।

मां लक्ष्मी के 18 पुत्रों का नाम जपने से होती है मनचाहे धन की प्राप्ति 

आंध्र प्रदेश का महालक्ष्मी मंदिर
आंध्र प्रदेश के तिरुपति नगर में चिंतानूर नामक स्थान पर मां पद्मावती देवी का मंदिर है। इस स्थान को तिरुचानूर या फिर मंगापट्टनम् भी कहते हैं। मान्यता है मां पद्मावती ही माता लक्ष्मी हैं, जिनके दर्शन मात्र से भक्तों का घर धन-धान्य से भर जाता है। इस विशाल मंदिर के करीब में एक पथ्य सरोवर है।

मनपसंद भोग Bhog लगाने से जल्‍दी प्रसन्‍न होते हैं देवी-देवता, जानिए किस भगवान को क्‍या चढ़ाएं

चेन्नई का महालक्ष्मी मंदिर
चेन्नई के प्रसिद्ध मंदिरों में से एक श्री बाला जी के मंदिर के भीतरी भाग में परिक्रमा पथ पर मौजूद है माता लक्ष्मी का यह मंदिर। इस मंदिर में माता का यह मंदिर अलग से बना हुआ है, जिसे स्थानीय लोग वरेमा देवी के नाम से बुलाते हैं। वैसे प्रधान मंदिर में श्री वेंकेटेश्वर भगवान के बगल में श्रीदेवी तो वहीं दूसरी तरफ भूदेवी विराजमान हैं।

ज्योतिष के चमत्कारी उपाय, फ्री सर्विस और रोचक जानकारी के लिए ज्वाइन करें हमारा टेलिग्राम चैनल

Google News पर हमसे जुड़ने के लिए हमें यहां क्लीक कर फॉलो करें।

ज्योतिष, धर्म, व्रत एवं त्योहार से जुड़ी ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करें और ट्वीटर @ganeshavoice1 पर फॉलो करें।

maheshshivapress
महेश के. शिवा www.ganeshavoice.in के मुख्य संपादक हैं। जो सनातन संस्कृति, धर्म, संस्कृति और हिन्दी के अनेक विषयों पर लिखतें हैं। इन्हें ज्योतिष विज्ञान और वेदों से बहुत लगाव है।
http://ganeshavoice.in