ganpati 1 2
ज्योतिष जानकारी राशिफल व्रत एवं त्यौहार

Ganesh Visarjan 2021: गणपति विसर्जन, जानें शुभ मुहूर्त और पूजा की सही विधि

Ganesh Visarjan 2021:  भाद्रपद महीने के शुक्ल पक्ष की चतुर्थी को गणेश स्‍थापना होने के बाद अनंत चतुर्दशी को गणपति बप्‍पा विदाई लेते हैं। गणपति विसर्जन इस साल 19 सितंबर को होगा। इस दिन गणेश जी मूर्ति को नदी, नहर अथवा अन्य जल स्रोत में विसर्जन किया जाता है। पंचांग के मुताबिक गणपति विसर्जन के 5 शुभ मुहूर्त हैं। वहीं इस दिन रविवार है और धृति योग बन रहा है। इसके अलावा दिशा शूल पश्चिम में रहेगा इसलिए इस दिन इलायची खाकर ही घर से बाहर निकलना सही है।

ganpati 1 2

जीवनसाथी की तलाश हुई आसान! फ्री रजिस्ट्रेशन करके तलाश करें अपना हमसफर

समस्या है तो समाधान भी है, विद्वान ज्योतिषी से फ्री में लें परामर्श

शुभ मुहूर्त

भगवान गणेश की प्रतिमा को विसर्जित करने का शुभ मुहूर्त सुबह 09:11 से दोपहर 12:21 बजे तक है। इसके बाद दोपहर 01:56 से 03:32 तक शुभ मुहूर्त रहेगा। वहीं गणपति विसर्जन के लिए अभिजीत मुहूर्त सुबह 11:50 से 12:39 तक रहेगा। ब्रह्म मुहूर्त सुबह 04:35 से 05:23 तक और अमृत काल रात 08:14 से 09:50 तक है। 19 सितंबर को राहुकाल शाम 04:30 से 6 बजे तक रहेगा. इस दौरान विसर्जन न करें।

सूर्य का राशि परिवर्तन, इन लोगों पर सूर्यदेव की रहेगी विशेष कृपा, चमक उठेगी किस्मत

विसर्जन की पूजा विधि
भगवान गणेश की प्रतिमा विसर्जित करने से पहले गणपति को नए वस्त्र पहनाएं। एक रेशमी कपड़े में मोदक, पैसा, दूर्वा घास और सुपारी बांधकर उस पोटली को गणपति के साथ रख दें। गणपति की आरती करें और उनसे अपनी गलतियों की क्षमा मांगे। इसके बाद उन्‍हें मान-सम्‍मान के साथ पानी में विसर्जित करें।

ज्योतिष के चमत्कारी उपाय, फ्री सर्विस और रोचक जानकारी के लिए ज्वाइन करें हमारा टेलिग्राम चैनल

Google News पर हमसे जुड़ने के लिए हमें यहां क्लीक कर फॉलो करें।

ज्योतिष, धर्म, व्रत एवं त्योहार से जुड़ी ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करें और ट्वीटर @ganeshavoice1 पर फॉलो करें।

maheshshivapress
महेश के. शिवा www.ganeshavoice.in के मुख्य संपादक हैं। जो सनातन संस्कृति, धर्म, संस्कृति और हिन्दी के अनेक विषयों पर लिखतें हैं। इन्हें ज्योतिष विज्ञान और वेदों से बहुत लगाव है।
http://ganeshavoice.in