maxresdefault 1
चमत्कारी उपाय ज्योतिष जानकारी व्रत एवं त्यौहार

अक्षय तृतीया 2021 : पांच रुपये की पांच सामग्री बना सकती है आपको धनवान

इस साल अक्षय तृतीया (Akshaya Tritiya 2021) 14 मई 2021 को है। अक्षय तृतीया को सर्वसिद्ध मुहूर्त माना गया है। जिस तरह दीपावली के दिन लक्ष्मी की कृपा प्राप्त की जा सकती है उसी तरह अक्षय तृतीया (Akshaya Tritiya) को भी लक्ष्मी की कृपा पाने के लिए उपाय किए जा सकते हैं…

maxresdefault 1

समस्या के समाधान के लिए ज्योतिषी से बात करें, बिल्कुल फ्री

अक्षय तृतीया (Akshaya Tritiya)पर बना है धन योग का संयोग

अक्षय तृतीया (Akshaya Tritiya) पर चंद्रमा का शुक्र के साथ शुक्रवार को वृष राशि में गोचर, धन, समृद्धि और निवेश के लिए बहुत ही शुभ फलदायी है। अक्षय तृतीया पर चंद्रमा संध्या काल में मिथुन राशि में प्रवेश करेंगे। मिथुन राशि में इस समय मंगल का संचार हो रहा है। ऐसे में चंद्रमा के मिथुन राशि में आने से यहां धन योग का निर्माण होगा।
लॉक डाउन के कारण अगर आप सोना नहीं खरीद सकते हैं तो निराश होने की आवश्यकता नहीं है। आप मात्र 5 रुपए की चीज घर में रखकर भी शुभता प्राप्त कर सकते हैं।

चाहते हैं धन और संपत्ति में वृद्धि तो जरुर करें ये अचूक उपाय

1. मिट्टी का दीपक : मिट्टी की महत्ता सोने के बराबर है। अगर सोने की खरीदी न कर सके तो मिट्टी का कोई भी पात्र या मिट्टी का एक छोटा दीपक भी अक्षय तृतीया (Akshaya Tritiya) के दिन घर में शुभता ला सकता है।

2. मौसमी फल : अक्षय तृतीया (Akshaya Tritiya) के शुभ मुहूर्त में मौसम के रसीले फल रखना भी शुभ होता है। आप कम से कम कीमत में अच्छे फल रख सकते हैं।

3. कपास : अक्षय तृतीया (Akshaya Tritiya) पर 5 रुपए की कपास यानी रुई भी रखी जा सकती है।

4. नमक : अक्षय तृतीया (Akshaya Tritiya) पर सेंधा नमक घर में रखना शुभ माना जाता है। लेकिन इस नमक का सेवन कतई न करें।

5. पीली सरसो : मुट्ठी भर पीली सरसो रखने से मां लक्ष्मी का आशीष मिलता है।

लॉक डाउन के कारण खरीदी सम्भव नहीं है तो घर में रखी सामग्री को शुद्धकर प्रयोग कर सकते हैं।

हर कदम पर सफलता पाने के लिए सुबह उठते ही करें ये जरुरी काम

अक्षय तृतीया (Akshaya Tritiya) शुभ मुहूर्त

तृतीया तिथि का आरंभ: 14 मई 2021 को प्रात: 05 बजकर 38 मिनट से।
तृतीया तिथि का समापन: 15 मई 2021 को प्रात: 07 बजकर 59 मिनट तक।
अक्षय तृतीया पूजा मुहूर्त: प्रात: 05 बजकर 38 मिनट से दोपहर 12 बजकर 18 मिनट तक
अवधि: 06 घंटा 40 मिनट

maheshshivapress
महेश कुमार शिवा www.ganeshavoice.in के मुख्य संपादक हैं। जो सनातन संस्कृति, धर्म, संस्कृति और हिन्दी के अनेक विषयों पर लिखतें हैं। इन्हें ज्योतिष विज्ञान और वेदों से बहुत लगाव है।
http://ganeshavoice.in