Kanwar Yatra 2022

Kanwar Yatra 2022: महंगी हो गई कांवड यात्रा, कांवड़ियों की जेब पर पड़ेगी भारी

Kanwar Yatra 2022 : आगामी 14 जुलाई से सावन मास शुरु होने जा रहा है और इसी के साथ कांवड़ यात्रा (Kanwar Yatra 2022) भी शुरु हो जाएगी। कोविड के प्रकोप के चलते पिछले दो सालों से यह पवित्र यात्रा (Kanwar Yatra 2022) नहीं हो सकी थी। लेकिन इस बार शिव भक्तों को इस बार कांवड़ यात्रा महंगी पड़ने जा रही है। इस पवित्र यात्रा में भले ही कांवड़ियां पैदल चले, रास्ते में लगने वाले शिविरों में भोजन करे और आराम करें, लेकिन कांवड़ में लगने वाला सामान 20 से 30 प्रतिशत तक महंगा हो गया है।

Kanwar Yatra 2022

Kanwar Yatra 2022
Kanwar Yatra 2022

आपको बता दें कि आगामी 14 जुलाई 2022 से सावन का महीना शुरू होते ही कांवड़ यात्रा शुरू हो जाएगी, जो 12 अगस्त तक चलेगी। ऐसे में कांवड़ यात्रा को लेकर तैयारियां शुरू हो गई है। कोविड़ के कारण 2 साल बाद इस बार यात्रा शुरू हो रही है। ऐसे में इस बार 4 करोड़ तक कांवड़िये आने की पुलिस​ को उम्मीद है। जिसके लिए एक तरफ पुलिस प्रशासन ने तैयारियां शुरू कर दी है। दूसरी तरफ व्यापारी भी दुकानों में कांवड़ का सामान रखने के लिए तैयारियां शुरू कर चुके हैं। कांवड़ का सामान मुख्य रुप से हरिद्वार में बिकता है। जहां से गंगोत्री के व्यापारी भी सामान खरीदते हैं।

बना महायोग, इन 5 राशि वालों की चमकेगी किस्मत budh surya 2022

जुलाई में सूर्य चमकाएंगे इन 3 राशि वालों का भाग्‍य! Surya Gochar July 2022

हरिद्वार के अलावा छोटा मोटा सामान ऋषिकेश और गंगोत्री से भी खरीदे जा सकते हैं। गंगोत्री धाम में कांवड़ का सामान बेचने वाले एक व्यापारी अनुज ने बताया कि वे हर बार कांवड़ यात्रा में कांवड़ का सामान बेचते हैं। इस बार भी कांवड़ को लेकर तैयारियां शुरू हो गई है। लेकिन इस बार कांवड़ का सामान महंगा हो गया है। जिससे कांवड़ यात्रा पर महंगाई का असर दिखना तय है। कांवड़ यात्रा के लिए कांवड़िये को झोली, पिट्ठु, डंडे, नाड़ा, डोरी, गंगाजली, गमछे और भोले की टी शर्ट की आवश्यकता होती है। जिनके दाम इस बार 20 से 30 रुपए तक बढ़ गए हैं।

Kanwar Yatra 2022
Kanwar Yatra 2022

कांवड़ यात्रा में सबसे आकर्षक रहती है रंग बिरंगी और सजावटी कांवड़ जो कि कांवड़िये हरिद्वार के ज्वालापुर से ही खरीदते हैं। हर साल इन कांवड़ पर ही सबकी नजर रहती है। हर कांवड़िये अपनी कांवड़ को सबसे आकर्षक बनाने की कोशिश करता है। जिससे वह अलग दिखे। लेकिन इस बार ये कांवड़ भी दो गुनी रेट पर बिक रही हैं। कांवड़ बनाने की सामग्री महंगी होने के कारण कांवड़ के दाम दो गुने तक हो गए हैं। कांवड़ बनाने में बांस, कपड़ा, सजावट का सामान, डंडा, टोकरी, छींका आदि सभी सामग्री की जरुरत पड़ती है। जिस वजह से कारीगर भी इसके मजबूरन ज्यादा दाम वसूल रहे हैं।

Weekly Horoscope इस सप्ताह किसे मिलेगा किस्मत का साथ, ये रहें सावधान

हरिद्वार के ज्वालापुर में कई दशकों से कांवड़ बनाने का काम होता है। कांवड़ बनाने वाले कारीगर अपनी कई पीढ़ियों से शिवभक्तों के लिए कांवड़ बनाते आ रहे हैं। 90 प्रतिशत कारीगर मुस्लिम समाज से संबंध रखते है। 5 से 4 माह पहले कांवड़ का निर्माण कार्य शुरू कर दिया जाता है। कांवड़ 200 रुपए से लेकर 5 हजार तक की बाजार में उपलब्ध रहती थी। जो कि अब 300 से 9 हजार तक बिक रही है। इसकी वजह कांवड़ के लिए इस्तेमाल होने वाला कच्चा माल महंगा मिलना है।

Kanwar Yatra 2022
Kanwar Yatra 2022

ज्योतिष के चमत्कारी उपाय,  व्रत एवं त्योहार  और रोचक जानकारी के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करें और ट्वीटर @ganeshavoice1 पर फॉलो करें।

ज्योतिष, धर्म, व्रत एवं त्योहार से जुड़ी ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए  ज्वाइन करें हमारा टेलिग्राम चैनल

Google News पर हमसे जुड़ने के लिए हमें यहां क्लीक कर फॉलो करें।