jhadu 1
राशिफल वास्तु टिप्स

घर का सभी धन खत्म कर देता है शाम के वक्त किया गया ये कार्य : Vastu Tips

Vastu Tips: वास्‍तु शास्‍त्र में घर-दफ्तर से जुड़े काम-काज और उन्‍हें करने के तरीके-समय के बारे में भी बताया गया है। ताकि सही समय पर किया गया काम अच्‍छे नतीजे दे। उससे जिंदगी में सुख-समृद्धि बढ़े। ऐसा ही रोजाना किया जाने वाला बेहद जरूरी काम है घर की साफ-सफाई करना। धर्म-ज्‍योतिष के मुताबिक झाड़ू में धन की देवी माता लक्ष्‍मी का वास होता है, यदि झाड़ू का उपयोग सही तरीके से सही समय पर न किया जाए तो धीरे-धीरे घर का सारा पैसा चला जाता है। व्‍यक्ति गरीब हो जाता है।

jhadu 1

जीवनसाथी की तलाश हुई आसान! फ्री रजिस्ट्रेशन करके तलाश करें अपना हमसफर

समस्या है तो समाधान भी है, विद्वान ज्योतिषी से फ्री में लें परामर्श

आज जानते हैं कि घर में सुख-समृद्धि बनाए रखने के लिए झाड़ू से जुड़ी किन बातों का ध्‍यान रखना बेहद जरूरी है।

इन बातों का जरूर रखें ख्‍याल

– कभी भी झाड़ू को पैर न मारें। यदि गलती से पैर झाड़ू से छू जाए तो उसे नमन करके माफी मांगें। ना ही कभी भी किसी जानवर को मारने या भगाने के लिए झाड़ू का इस्‍तेमाल करें।

– सूर्यास्‍त के समय या उसके बाद घर में झाड़ू न लगाएं, ऐसा करने से लक्ष्‍मी जी घर से चली जाती हैं। यदि मजबूरी में शाम और रात को झाड़ू लगाना पड़े तो कचरा बाहर न फेंके। अगली सुबह कचरा फेंकें।

जिंदगीभर नहीं होगी धन की कमी, बस नहाते समय इन बातों का रखें ध्यान

– टूटी झाड़ू का इस्‍तेमाल कभी न करें। ऐसा करना कई संकटों को बुलावा देना है। ना ही झाड़ू को कभी भी किचन में रखें। इससे घर के सदस्‍य हमेशा बीमार रहते हैं।

– हो सके तो शनिवार के दिन झाड़ू खरीदें। कभी भी पंचकों के दौरान झाड़ू न खरीदें।

वर्षों पुरानी रिलेशनशिप को एक मिनट में तोड़ देते हैं इन राशि के लोग 

– झाड़ू को हमेशा आड़ा करके (लिटाकर) और छिपा कर रखें। इसे ऐसी जगह न रखें जहां से सभी लोगों की नजर उस पर जाए। साथ ही झाड़ू को तिजोरी से सटाकर या बाथरूम-टॉयलेट के पास न रखें।

– झाड़ू को गंदे पानी से न धोएं।

ज्योतिष के चमत्कारी उपाय, फ्री सर्विस और रोचक जानकारी के लिए ज्वाइन करें हमारा टेलिग्राम चैनल

Google News पर हमसे जुड़ने के लिए हमें यहां क्लीक कर फॉलो करें।

ज्योतिष, धर्म, व्रत एवं त्योहार से जुड़ी ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करें और ट्वीटर @ganeshavoice1 पर फॉलो करें।

maheshshivapress
महेश के. शिवा www.ganeshavoice.in के मुख्य संपादक हैं। जो सनातन संस्कृति, धर्म, संस्कृति और हिन्दी के अनेक विषयों पर लिखतें हैं। इन्हें ज्योतिष विज्ञान और वेदों से बहुत लगाव है।
http://ganeshavoice.in