Daily Panchang 19 September 2021
पंचांग राशिफल

आज का पंचांग | Daily Panchang 19 September 2021 | दिन रविवार

नई दिल्ली। Daily Panchang 19 September 2021 : भाद्रपद शुक्ल पक्ष चतुर्दशी, आनन्द संवत्सर विक्रम संवत 2078, शक संवत 1943 (प्लव संवत्सर), भाद्रपद। चतुर्दशी तिथि 05:28 AM तक उपरांत पूर्णिमा। नक्षत्र शतभिषा 03:28 AM तक उपरांत पूर्वभाद्रपदा। धृति योग 04:44 PM तक, उसके बाद शूल योग। करण गर 05:41 PM तक, बाद वणिज 05:28 AM तक, बाद विष्टि। 19 सितम्बर 2021, दिन रविवार को राहु 04:46 PM से 06:17 PM तक है। चन्द्रमा कुंभ राशि पर संचार करेगा। Daily Panchang 19 September 2021

Daily Panchang 19 September 2021

जीवनसाथी की तलाश हुई आसान! फ्री रजिस्ट्रेशन करके तलाश करें अपना हमसफर

समस्या है तो समाधान भी है, विद्वान ज्योतिषी से फ्री में लें परामर्श

विक्रम संवत – 2078
शक सम्वत – 1943, प्लव
पूर्णिमांत – भाद्रपद
अमांत – भाद्रपद
तिथि
शुक्ल पक्ष चतुर्दशी – 19 सितंबर 06:00 AM – 20 सितंबर 05:28 AM
शुक्ल पक्ष पूर्णिमा – 20 सितंबर 05:28 AM – 21 सितंबर 05:24 AM
नक्षत्र
शतभिषा – 19 सितंबर 03:21 AM – 20 सितंबर 03:28 AM
पूर्वभाद्रपदा – 20 सितंबर 03:28 AM – 21 सितंबर 04:02 AM
करण
गर – 19 सितंबर 06:00 AM – 19 सितंबर 05:41 PM
वणिज – 19 सितंबर 05:41 PM – 20 सितंबर 05:28 AM
विष्टि – 20 सितंबर 05:28 AM – 20 सितंबर 05:22 PM
योग
धृति – 18 सितंबर 06:24 PM – 19 सितंबर 04:44 PM
शूल – 19 सितंबर 04:44 PM – 20 सितंबर 03:23 PM

घर में इस जगह लटका दे “फिटकरी” का एक टुकड़ा, फिर देखें चमत्कार 

वार
रविवार
त्यौहार और व्रत
गणेश विसर्जन
सूर्य और चंद्रमा का समय
सूर्योदय – 6:12 AM
सूर्यास्त – 6:17 PM
चन्द्रोदय – 19 सितंबर 5:45 PM
चन्द्रास्त – 20 सितंबर 5:14 AM
अशुभ काल
राहू – 4:46 PM – 6:17 PM
यम गण्ड – 12:14 PM – 1:45 PM
कुलिक – 3:16 PM – 4:46 PM
दुर्मुहूर्त – 04:40 PM – 05:29 PM
वर्ज्यम् – 10:01 AM – 11:39 AM

कुंडली के दोषों को दूर करके पैसा बरसाता है नमक का यह उपाय

शुभ काल
अभिजीत मुहूर्त – 11:50 AM – 12:39 PM
अमृत काल – 08:14 PM – 09:50 PM
ब्रह्म मुहूर्त – 04:35 AM – 05:23 AM
आनन्दादि योग
राक्षस – 03:28 AM से
चर
सूर्या राशि
सूर्य कन्या राशि पर है
चंद्र राशि
चन्द्रमा कुंभ राशि पर संचार करेगा (पूरा दिन-रात)
चन्द्र मास
अमांत – भाद्रपद
पूर्णिमांत – भाद्रपद
शक संवत (राष्ट्रीय कलैण्डर) – भाद्रपद 28, 1943
वैदिक ऋतु – वर्षा
द्रिक ऋतु – शरद

नोट : कोई भी शुभ समय या मुहूर्त के दौरान, राहुकाल गुलिक काल, यमगण्ड काल से बचना चाहिए क्योंकि ये समय अशुभ माना जाता है।

सुबह के वक्त इन अंगों में खुजली होने का विशेष महत्व, मिलते हैं कई लाभ

दिन का चौघड़िया

उद्बेग 06:12 AM 07:42 AM
चर 07:42 AM 09:13 AM
लाभ 09:13 AM 10:44 AM
अमृत (वार वेला) 10:44 AM 12:14 PM
काल (काल वेला) 12:14 PM 13:45 PM
शुभ 13:45 PM 15:16 PM
रोग 15:16 PM 16:46 PM
उद्बेग 16:46 PM 18:17 PM

यदि चाहते हैं अचानक धन प्राप्त हो, तो करें ये असरकारी उपाय 

रात का चौघड़िया

शुभ 18:17 PM 19:47 PM
अमृत 19:47 PM 21:16 PM
चर 21:16 PM 22:45 PM
रोग 22:45 PM 00:15 AM
काल 00:15 AM 01:44 AM
लाभ (काल रात्रि) 01:44 AM 03:13 AM
उद्बेग 03:13 AM 04:43 AM
शुभ 04:43 AM 06:12 AM

ज्योतिष के चमत्कारी उपाय, फ्री सर्विस और रोचक जानकारी के लिए ज्वाइन करें हमारा टेलिग्राम चैनल

Google News पर हमसे जुड़ने के लिए हमें यहां क्लीक कर फॉलो करें।

ज्योतिष, धर्म, व्रत एवं त्योहार से जुड़ी ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करें और ट्वीटर @ganeshavoice1 पर फॉलो करें।

maheshshivapress
महेश के. शिवा www.ganeshavoice.in के मुख्य संपादक हैं। जो सनातन संस्कृति, धर्म, संस्कृति और हिन्दी के अनेक विषयों पर लिखतें हैं। इन्हें ज्योतिष विज्ञान और वेदों से बहुत लगाव है।
http://ganeshavoice.in