daily panchang 02 Feb 20211 ganeshavoice.in आज का पंचांग, दैनिक पंचांग 2 फरवरी 2021
पंचांग

आज का पंचांग, दैनिक पंचांग 2 फरवरी 2021

नई दिल्ली। माघ कृष्ण पक्ष पंचमी, प्रमादि संवत्सर विक्रम संवत 2077, शक संवत 1942 (शर्वरी संवत्सर), पौष। पंचमी तिथि 04:19 PM तक उपरांत षष्ठी। नक्षत्र हस्त 10:32 PM तक उपरांत चित्रा। धृति योग 03:56 AM तक, उसके बाद शूल योग। करण तैतिल 04:19 PM तक, बाद गर 03:15 AM तक, बाद वणिज। 2 फरवरी, मंगलवार को राहु 03:16 PM से 04:36 PM तक है। चन्द्रमा कन्या राशि पर संचार करेगा।

विक्रम संवत – 2077, प्रमादि
शक सम्वत – 1942, शर्वरी
पूर्णिमांत – माघ
अमांत – पौष
तिथि
कृष्ण पक्ष पंचमी – फरवरी 01 06:25 PM – फरवरी 02 04:19 PM
कृष्ण पक्ष षष्ठी – फरवरी 02 04:19 PM – फरवरी 03 02:12 PM
नक्षत्र
हस्त – 01 फरवरी 11:57 PM – 02 फरवरी 10:32 PM
चित्रा – 2 फरवरी 10:32 PM – 3 फरवरी 09:07 PM
करण
तैतिल – 2 फरवरी 05:22 AM – 2 फरवरी 04:19 PM
गर – 2 फरवरी 04:19 PM – 3 फरवरी 03:15 AM
वणिज – 03 फरवरी 03:15 AM – 03 फरवरी 02:12 PM
योग
धृति – 02 फरवरी 06:52 AM – 03 फरवरी 03:56 AM
शूल – 03 फरवरी 03:56 AM – 04 फरवरी 01:00 AM
वार
मंगलवार
सूर्य और चंद्रमा का समय
सूर्योदय – 7:12 AM
सूर्यास्त – 5:56 PM
चन्द्रोदय – 2 फरवरी 10:47 PM
चन्द्रास्त – 3 फरवरी 10:51 AM
अशुभ काल
राहू – 3:16 PM – 4:36 PM
यम गण्ड – 9:53 AM – 11:14 AM
कुलिक – 12:34 PM – 1:55 PM
दुर्मुहूर्त – 09:21 AM – 10:04 AM, 11:14 PM – 12:07 AM
वर्ज्यम् – 06:03 AM – 07:33 AM
शुभ काल
अभिजीत मुहूर्त – 12:13 PM – 12:56 PM
अमृत काल – 04:52 PM – 06:23 PM
ब्रह्म मुहूर्त – 05:36 AM – 06:24 AM
आनन्दादि योग
सौम्य – 10:32 PM से
ध्वांक्ष
सूर्या राशि
सूर्य मकर राशि पर है
चंद्र राशि
चन्द्रमा कन्या राशि पर संचार करेगा (पूरा दिन-रात)
चन्द्र मास
अमांत – पौष
पूर्णिमांत – माघ
शक संवत (राष्ट्रीय कलैण्डर) – माघ 13, 1942
वैदिक ऋतु – हेमंत
द्रिक ऋतु – शिशिर
कोई भी शुभ समय या मुहूर्त के दौरान, राहुकाल गुलिक काल, यमगण्ड काल से बचना चाहिए क्योंकि ये समय अशुभ माना जाता है। राहुकाल / गुलिक / यमगण्ड काल।

दिन का चौघड़िया
रात का चौघड़िया
रोग 07:12 AM                               08:33 AM
उद्बेग (वार वेला) 08:33 AM             09:53 AM
चर 09:53 AM                               11:14 AM
लाभ 11:14 AM                             12:34 PM
अमृत 12:34 PM                            13:55 PM
काल (काल वेला) 13:55 PM             15:15 PM
शुभ 15:15 PM                               16:36 PM
रोग 16:36 PM                               17:56 PM

रात का चौघड़िया
काल 17:56 PM                            19:36 PM
लाभ (काल रात्रि) 19:36 PM           21:15 PM
उद्बेग 21:15 PM                         22:55 PM
शुभ 22:55 PM                            00:34 AM
अमृत 00:34 AM                         02:13 AM
चर 02:13 AM                             03:53 AM
रोग 03:53 AM                            05:32 AM
काल 05:32 AM                           07:12 AM

maheshshivapress
महेश के. शिवा www.ganeshavoice.in के मुख्य संपादक हैं। जो सनातन संस्कृति, धर्म, संस्कृति और हिन्दी के अनेक विषयों पर लिखतें हैं। इन्हें ज्योतिष विज्ञान और वेदों से बहुत लगाव है।
http://ganeshavoice.in

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *