Gomed Gem

गोमेद रत्न के पूरे लाभ के लिए इस रिश्ते का करें सम्मान, मिलेगी उन्नति Gomed Gem

Gomed Gem Benefits: राहु के फलों को प्राप्त करने के लिए गोमेद (Gomed Gem) धारण किया जाता है ताकि राहु धारण करने वाले पर कृपा करें, उन्नति का मार्ग प्रशस्त करें और उसे उन्नति प्रदान करें। (Gomed Gem) वास्तव में राहु कोई ग्रह नहीं है। ब्रह्मांड में जहां पर पृथ्वी की कक्षा और चंद्रमा की कक्षा आपस में काटती है जैसे सूर्य के चारों ओर पृथ्वी चक्कर लगा रही है और पृथ्वी के चारों ओर चंद्रमा चक्कर लगा रहा है, चक्कर लगाते हुए इसमें दो पाथ कटते हैं, इसमें ऊपर जाता हुआ बिंदु राहु और नीचे जाता हुआ बिंदु केतु होता है।

Gomed Gem Benefits

Gomed Gem
Gomed Gem

भारतीय ज्योतिष परंपरा में राहु और केतु को ग्रह का स्थान दिया गया है किंतु यह कोई वास्तविक ग्रह नहीं हैं, राहु और केतु तो छाया ग्रह कहे जाते हैं। राहु का रत्न गोमेद है और गोमेद को एक्टिव करने के लिए जीवित कारक को प्रसन्न करना होता है। राहु किसी को फ्री में कुछ नहीं देते, पहले ले लेते हैं।

राहु और गोमेद के बारे में जानने के लिए राहु के स्वभाव के बारे में जानना जरूरी है। राहु कभी किसी को फ्री में कुछ नहीं देता है, पहले उससे कुछ ले लेते हैं तभी देते हैं। वास्तव में राहु गिव एंड टेक रिलेशनशिप में विश्वास रखते हैं यानी एक हाथ दो तो दूसरे हाथ से लो। राहु पापी ग्रह माना जाता है और यह सदैव बलि लेते हैं।

नहीं टिकता धन? पैसों को चुंबक की तरह खींच लाते हैं ये 5 पौधे Auspicous Plant

27 जून से इन लोगों पर होगी छप्पर फाड़ धन वर्षा Mangal Gochar

Gomed Gem
Gomed Gem

राहु का संबंध दादा और नानी से है

राहु का सीधा संबंध पितामह यानी दादा और मां के पक्ष में नानी से है, यदि कोई राहु से लाभ लेना चाहता है और इसके लिए गोमेद रत्न को धारण करे। फिर गोमेद को एक्टिव करने के लिए उसे अपने दादा और नानी को खुश करना होगा। उन्हें प्रसन्न करने के लिए उनके बुढ़ापे की लाठी बन जाइए, यदि वह घर में ही रहते हैं तो रोज उनसे मिलिए चरण स्पर्श कर आशीर्वाद लीजिए और यदि कहीं दूर रहते हैं तो समय-समय पर मोबाइल फोन से कभी वीडियो कॉल तो कभी रूटीन कॉल करके हालचाल लीजिए। उनकी परेशानियों की चिंता कीजिए और जब मिलने जाइए तो कोई गिफ्ट लेकर जाए। यदि वह कोई विशेष प्रकार की मिठाई या कोई अन्य चीज पसंद करते हैं तो वह लेकर जाइए और अपने हाथ से खिलाइए।

दादा या नानी जीवित नहीं हैं तो इनको करें खुश
राहु को शनिवत कहा गया है, यानी राहु से जुड़े हुए जीवत कारक दादा अथवा नानी में से कोई भी नहीं हैं तो शनि से जुड़े रिश्ते पर भी ध्यान दे सकते हैं। घर में काम करने वाले सेवक, हाउसकीपिंग या अन्य कामों में सहायता देने वालों को खुश किया जा सकता है, उनको खुश करने से भी राहु प्रसन्न होते हैं और फल देते हैं।

आज से इन राशि वालों की होगी जेब गर्म, जानें क्यों Shukra Gochar 2022

इन लोगों को अपनी वाणी पर रखन होगा कंट्रोल, नहीं तो होगा भारी नुकसान Budh

Gomed Gem
Gomed Gem

राहु को प्रसन्न करने का यह भी है उपाय
राहु का पूर्ण फल प्राप्त करने के लिए कुत्ते को रोटी खिला सकते हैं। इसके लिए रोज खाना बनाते समय तवे की आखिरी रोटी को तोड़ कर अलग कर लें और आठ घंटे रखने के बाद यानी बासी होने के बाद उसे ले जाकर कुत्ते को खिला दें तो राहु प्रसन्न होते हैं।

ज्योतिष के चमत्कारी उपाय,  व्रत एवं त्योहार फ्री सर्विस और रोचक जानकारी के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करें और ट्वीटर @ganeshavoice1 पर फॉलो करें।

ज्योतिष, धर्म, व्रत एवं त्योहार से जुड़ी ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए  ज्वाइन करें हमारा टेलिग्राम चैनल

Google News पर हमसे जुड़ने के लिए हमें यहां क्लीक कर फॉलो करें।