August 2022 festivals

अगस्त में इतने दिन रहेगी छुट्टी, अगस्त के व्रत और त्योहार August 2022 festivals

August 2022 festivals List : अंग्रेजी कैलेंडर का आठवां माह अगस्त (August 2022 festivals) का प्रारंभ होने वाला है. (August 2022 festivals) इस माह में रक्षाबंधन, श्रीकृष्ण जन्माष्टमी, पुत्रदा एकादशी, नाग पंचमी, गणेश चतुर्थी, विनायक चतुर्थी, (August 2022 festivals) कजरी तीज, वरलक्ष्मी व्रत जैसे महत्वपूर्ण व्रत और त्योहार आएंगे. हिंदू कैलेंडर के हिसाब से देखा जाए तो अगस्त माह में इसके दो मास श्रावण का शुक्ल पक्ष और भाद्रपद का कृष्ण पक्ष आएगा. आइए जानते हैं अगस्त के व्रत और त्योहारों के बारे में.

August 2022 festivals List

August 2022 festivals
August 2022 festivals

रक्षाबंधन को लेकर हैं कंफ्यूज? जानिए 11 या 12 अगस्त, कब है राखी का त्योहार Raksha Bandhan 2022

अगस्त 2022 व्रत और त्योहार

01 अगस्त: दिन-सोमवार: श्रावण विनायक चतुर्थी व्रत, सावन का तीसरा सोमवार व्रत

02 अगस्त, दिन-मंगलवार: नाग पंचमी, सावन का तीसरा मंगला गौरी व्रत

03 अगस्त, दिन-बुधवार: स्कंद षष्ठी व्रत

08 अगस्त, दिन-सोमवार: श्रावण पुत्रदा एकादशी, सावन का चौथा सोमवार व्रत

09 अगस्त, दिन-मंगलवार: भौम प्रदोष व्रत, सावन का चौथा मंगला गौरी व्रत

बेहद चमत्कारी है भगवान शिव का ये मंदिर Airavatesvara Temple

11 अगस्त, दिन-गुरुवार: रक्षाबंधन या राखी

12 अगस्त, दिन-शुक्रवार: श्रावण पूर्णिमा व्रत, वरलक्ष्मी व्रत

14 अगस्त, दिन-रविवार: कजरी तीज

15 अगस्त, दिन-सोमवार: बहुला चतुर्थी

August 2022 festivals
August 2022 festivals

17 अगस्त, दिन-बुधवार: सिंह संक्रांति

19 अगस्त, दिन-शुक्रवार: श्री​कृष्ण जन्माष्टमी

वक्री हुए बृहस्पति, इन राशियों को होगा विशेष लाभ Guru Vakri 2022

23 अगस्त, दिन-मंगलवार: अजा एकादशी

24 अगस्त, दिन-बुधवार: प्रदोष व्रत

25 अगस्त, दिन-गुरुवार: मासिक शिवरात्रि

27 अगस्त, दिन-शनिवार: भाद्रपद अमावस्या

यह भी पढ़ेंः कब है रक्षाबंधन? जानें भद्रा समय और राखी बांधने का शुभ मुहूर्त

30 अगस्त, दिन-मंगलवार: हरतालिका तीज

31 अगस्त, दिन-बुधवार: गणेश चतुर्थी

इन राशियों की रातों रात चमक सकती है किस्मत! मंगल देंगे शुभ फल

August 2022 festivals
August 2022 festivals

अगस्त माह में श्रावण पुत्रदा एकादशी और हरतालिका तीज व्रत का विशेष महत्व होता है. श्रावण पुत्रदा एकादशी व्रत के नाम से ही ज्ञात होता है कि यह व्रत पुत्र प्राप्ति के लिए रखा जाता है. इस व्रत को करने और भगवान विष्णु की पूजा करने से पुत्र की प्राप्ति होती है. वंश की वृद्धि होती है. जो दंपत्ति निःसंतान हैं या जिनको वंश वृद्धि की कामना है, वे इस व्रत को करते हैं.

Get FREE HOROSCOPE in 30 seconds
Date of birth
Time of Birth
Gender

ज्योतिष के चमत्कारी उपाय,  व्रत एवं त्योहार  और रोचक जानकारी के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करें और ट्वीटर @ganeshavoice1 पर फॉलो करें।

ज्योतिष, धर्म, व्रत एवं त्योहार से जुड़ी ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए  ज्वाइन करें हमारा टेलिग्राम चैनल

Google News पर हमसे जुड़ने के लिए हमें यहां क्लीक कर फॉलो करें।