Govardhan Pooja 2022

Govardhan Pooja kab hai : गोवर्धन पूजा कब है?

Govardhan Pooja kab hai : हर वर्ष गोवर्धन पूजा दिवाली से दूसरे दिन मनाई जाती है, (Govardhan Pooja kab hai) लेकिन इस बार गोवर्धन पूजा दिवाली से दूसरे नहीं बल्कि तीसरे दिन मनाई जाएगी। मान्यता के अनुसार गोवर्धन पूजा का बहुत ही महत्व है। (Govardhan Pooja kab hai) ज्योतिष शास्त्र के अनुसार दिवाली 24 अक्टूबर 2022 को पड़ रही है और 25 अक्टूबर को सूर्य ग्रहण लग रहा है।

Govardhan Pooja kab hai 2022

Govardhan Pooja 2022
Govardhan Pooja kab hai

ऐसे में इस बार गोवर्धन पूजा दिवाली के तीसरे दिन यानि की 26 अक्टूबर 2022 को मनाई जाएगी। कई वर्षो के बाद ऐसा इस बार होगा कि गोवर्धन पूजा दिवाली के दूसरे दिन नहीं मनाई जाएगी।

ज्योतिष के अनुसार सूर्य ग्रहण का सूतर 12 घंटे पहले ही लग जाता है, जो सूर्य ग्रहण के खत्म होने के बाद ही समाप्त होता है। मान्यता के अनुसार ग्रहण के सूतल काल में कोई भी शुभ कार्य नहीं किया जाता है। ऐसे में इस बार गोवर्धन पूजा सतक काल के बाद 26 अक्टूबर को मनाया जाएगा।

इन 6 राशि के लोगों को हो सकती है धन की हानि Mercury Transit

Govardhan Pooja 2022
Govardhan Pooja kab hai

मान्यता के अनुसार गोवर्धन पूजा के दिन भगवान कृष्ण और गाय की पूजा का महत्व बताया गया है। इस दिन भगवान कृष्ण को कई प्रकार के व्यंजनों को भोग लगाया जाता है। इसलिए गोवर्धन पूजा को अन्नकूट पूजा भी कहा जाता है। ऐसी मान्यता है कि इस दिन गाय और भगवान कृष्ण की पूजा करने से आर्थिक संकट दूर हो जाता है और सुख-समृद्धि का वास होता है।

Govardhan Pooja 2022
Govardhan Pooja kab hai

पौराणिक कथा के अनुसार इंद्र ने अभिमान में आकर गोकुल में भारी वर्ष की, जिससे सभी लोग परेशान हो गए और चारों तरफ हाहाकार मच गया। ऐसे में लोगों की रक्षा के लिए भगवान कृष्ण ने गोवर्धन पर्वत को अपनी छोटी अंगली से उठाकर लोगों की रक्षा की और उसके बाद लोगों से गोवर्धन पर्वत की पूजा करने को कहा।विभिन्न व्यंजनों को भोग लाकर गोवर्धन पर्वत की पूजा की गई।

ज्योतिष के चमत्कारी उपाय,  व्रत एवं त्योहार और रोचक जानकारी के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करें और ट्वीटर @ganeshavoice1 पर फॉलो करें।

ज्योतिष, धर्म, व्रत एवं त्योहार से जुड़ी ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए  ज्वाइन करें हमारा टेलिग्राम चैनल