तीन मुखी रुद्राक्ष होता है ब्रहृमा, विष्ण और महेश का समावेश

teen mukhi rudrakshaतीन मुखी रुद्राक्ष में तीन धारियां होती हैं। तीन मुखी रुद्राक्ष को अग्नि स्वरुप माना जाता है। यह सत्य, रज, तथा तम इन तीनों का निर्गुणात्मक शांति रुप है। इस रुद्राक्ष में ब्रह्मा, विष्णु और महेश तीनों शक्तियों का समावेश होता है, साथ ही इनके साथ साथ इसमें तीनों लोक आकाश, पृथ्वी व पाताल की भी शक्तियां होती हैं। यह मानव को त्रिकालदर्शी बनाकर भूत, भविष्य और वर्तमान के बारे में बताता है। कहते हैं कि इसको धारण करने से व्यक्ति की विध्यंसात्मक प्रवृत्तियों का ह्रास होता है तथा रचनात्मक प्रवृत्ति पैदा होती है। इसलिए यह अध्ययन कार्य में मददगार होता है।

जो छात्र पढ़ाई लिखाई में कमजोर होते हैं, उनके लिए इसे धारण करना अद्भुत लाभ प्रदान करता है। इसको धारण करने से ईष्ट देव खुश होते हैं तथा मन में दया, धर्म और परोपकार के भाव पैदा होते हैं। यह परस्त्री गमन के पापों को भी नष्ट करता है। इसे धारण करने वाले धारक के सभी पापों का नाश होता है और वह तेजस्वी बनता है।

तीन मुखी रुद्राक्ष – Teen Mukhi Rudraksh

ब्रह्मा, विष्णु और महेश को त्रिशक्ति के रूप में पूजा जाता है, तीन मुखी रुद्राक्ष इन्हीं त्रिशक्तियों का प्रतिनिधित्व करता है। तीन मुखी रुद्राक्ष सदा साक्षात् साधन का फल देने वाला है, इसके प्रभाव से सारी विधाएँ प्रतिष्ठित होती हैं।

तीन मुखी रुद्राक्ष के फायदे (Benefits of Teen Mukhi Rudraksh in Hindi

* इस रुद्राक्ष को धारण करने से बड़े से बड़ा पाप भी क्षण भर में खत्म हो जाता है।
* परीक्षा में सफलता के लिए इस रुद्राक्ष को धारण करना शुभ समझा जाता है।
* मेष राशि के जातकों के लिए तीन मुखी रुद्राक्ष (Teen Mukhi Rudraksha) शुभ माना जाता है।
तीन मुखी रुद्राक्ष का मंत्र (Teen Mukhi Rudraksha Mantra in Hindi)
* तीन मुखी रुद्राक्ष को धारण करने के लिए “ऊँ क्लीं नम:” (Om Kleem Namah) मंत्र का जाप करें।

तीन मुखी रुद्राक्ष को मंगाने के लिए यहां क्लीक करें…

एक मुखी रुद्राक्षदो मुखी रुद्राक्षतीन मुखी रुद्राक्षचार मुखी रुद्राक्ष पांच मुखी रुद्राक्ष

छह मुखी रुद्राक्षसात मुखी रुद्राक्षआठ मुखी रुद्राक्षनौ मुखी रुद्राक्षदस मुखी रुद्राक्ष

ग्यारह मुखी रुद्राक्षबारह मुखी रुद्राक्षतेरह मुखी रुद्राक्षचौदह मुखी रुद्राक्ष

समस्या है तो समाधान भी है। फ्री ज्योतिषीय परामर्श। यहां क्लीक करें।