Naina devi 1
धर्म दर्शन राशिफल

दुनियाभर में ​प्रसिद्ध हैं मां दुर्गा के ये 5 मंदिर, दर्शनमात्र से पूरी होती है मन्नत Famous Devi Temple

Famous Devi Temple :  शारदीय नवरात्रि पर्व चल रहा है। 7 अक्‍टूबर को स्‍थापित हुईं मां दुर्गा की प्रतिमाओं का 15 अक्‍टूबर को विसर्जन होगा। इस दौरान देश के मशहूर देवी मंदिरों (Famous Devi Temples) में भी भक्‍त दर्शन कर रहे हैं। हालांकि कोरोना महामारी के कारण लोगों के प्रवेश की संख्‍या सीमित रखने जैसे कई प्रतिबंध लगाए गए हैं, लेकिन महामारी खत्‍म होने के बाद इन 5 प्रसिद्ध देवी मंदिरों में एक बार जरूर दर्शन करें। मान्‍यता है कि यहां देवी के दर्शन करने से सारी मनोकामनाएं पूरी होती हैं।

Naina devi 1

जीवनसाथी की तलाश हुई आसान! फ्री रजिस्ट्रेशन करके तलाश करें अपना हमसफर

समस्या है तो समाधान भी है, विद्वान ज्योतिषी से फ्री में लें परामर्श

ज्वाला देवी मंदिर, हिमाचल प्रदेश
भारत के उत्तर में हिमाचल प्रदेश के कांगड़ा जिले में स्थित ज्‍वाला देवी मंदिर बहुत प्रसिद्ध है। यह देवी के 51 शक्तिपीठों में से एक है, जहां पर माता सती की जिह्वा गिरी थी। इस मंदिर में धरती से निकली ज्‍वाला हमेशा जलती रहती है इसलिए इसे ज्‍वाला देवी मंदिर कहते हैं।

कामाख्या शक्तिपीठ, असम
असम की राजधानी गुवाहाटी से 8 किलोमीटर दूर कामाख्या शक्तिपीठ है। इसे 51 शक्तिपीठों में पहले नंबर पर रखा जाता है। यहां पर माता सती की योनि गिरी थी और इसलिए यहां माता रजस्‍वला होती हैं। कहते हैं इस मंदिर में मानी गई हर मन्‍नत पूरी होती है। यह देश-विदेश से लोग दर्शन करने के लिए आते हैं।

इन लोगों को हो सकता है बड़ा धन लाभ, मेहरबान हुए सूर्य, बुध और मंगल 

नैना देवी मंदिर, नैनीताल
नैनीताल के नैना देवी मंदिर में माता सती के 2 नेत्र स्‍थापित हैं। जिनकी पूजा की जाती है। इस मंदिर का भी बहुत महत्‍व है।

करणी माता मंदिर, राजस्थान
राजस्‍थान में बीकानेर से 30 किलोमीटर दूर स्थित करणी देवी का मंदिर भी बहुत मशहूर है। इसकी वजह इस मंदिर में रहने वाले ढेर सारे चूहे भी हैं। इस मंदिर को चूहे वाला मंदिर भी कहते हैं। यहां आने वाले भक्‍त चूहों के लिए भी भोजन लाते हैं।

पैसों की तंगी और मैरिज लाइफ की परेशानी दूर करते हैं ये 9 उपाय 

दक्षिणेश्वर काली मंदिर, पश्चिम बंगाल
पश्चिम बंगाल के कोलकाता में स्थित मां दक्षिणेश्वर काली मंदिर बहुत खूबसूरत है। कहते हैं कि करीब 170 साल पहले जान बाजार की महारानी रासमणि को मां काली ने सपने में आकर यह मंदिर बनवाने का आदेश दिया था। इस मंदिर को देखने के लिए भी दूर-दूर से लोग आते हैं।

ज्योतिष के चमत्कारी उपाय, फ्री सर्विस और रोचक जानकारी के लिए ज्वाइन करें हमारा टेलिग्राम चैनल

Google News पर हमसे जुड़ने के लिए हमें यहां क्लीक कर फॉलो करें।

ज्योतिष, धर्म, व्रत एवं त्योहार से जुड़ी ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करें और ट्वीटर @ganeshavoice1 पर फॉलो करें।

maheshshivapress
महेश के. शिवा www.ganeshavoice.in के मुख्य संपादक हैं। जो सनातन संस्कृति, धर्म, संस्कृति और हिन्दी के अनेक विषयों पर लिखतें हैं। इन्हें ज्योतिष विज्ञान और वेदों से बहुत लगाव है।
http://ganeshavoice.in